बैलगाड़ी से अनोखी बारात लोगो ने याद की पुरानी परंपरा

लालबाबू।अभी तक आपने लग्जरी वाहनों और घोड़ो और हाथियों की बारात देखी होगी पर आज हम आपको एक अनोखी बारात का दीदार करायेगे जिसे देख कर आप भी रोमांचित हो जायेगे …जी हाँ यह बारात बैलगाड़ियों के साथ है जिस पर दूल्हा और बाराती दोनो बैल गाड़ी में सवार है और इस बारात में डीजे की जगह फरुआई लोक नृत्य है इस बारात को देखकर लोग अपने मोबाइल के कैमरे कैद करने को मजबूर हो जा रहे है ।

यह बारात देवरिया जनपद के कुसहरी गाव से पकड़ी बाजार जा रही है दूरी 35 किलोमीटर की है
इस बरसात के मौसम में इस बारात को देखने के लिए लोग घरों से बाहर निकल जा रहे हैं इस बारात के दूल्हा छोटे लाल पाल है जो अपने को दसवी फेल बता रहे है इनका कहना है कि मैने यह सोच रखा था कि जब मेरी शादी होगी तो बैलगाड़ी से अपनी बारात ले जाऊंगा ताकि पुरानी परंपरा को आज के दौर में लोग देख व समझ सके ।छोटे लाल पाल मुम्बई में फिल्मों की शूटिंग टीम में कार्य करते है ।

इस बारात में सेकड़ो के तादात में जो बाराती थे वह काफी खुश थे कि वह इस बारात के बाराती है सड़को पर जो लोगो का प्यार इनको मिल रहा था इससे यह काफी रोमांटिक थे ।

News Reporter

Leave a Reply