जीएम खाद्य पदार्थों के विनियमित करने वाले मसौदे का विरोध, जानें- राकेश टिकैत ने क्या कहा

जीएम खाद्य पदार्थों के विनियमित करने वाले मसौदे का विरोध, जानें- राकेश टिकैत ने क्या कहा

January 12, 2022

नई दिल्ली: देश में जीएम खाद्य पदार्थों पर एक बार फिर चर्चा शुरु हो गई है। जीएम खाद्य पदार्थों को विनियमित करने वाले सरकार के एक मसौदे पर नागरिक संगठनों के विरोध स्वर तेज हो गए हैं। संयुक्त नागरिक संगठनों का कहना…

तो अब पूरी पृथ्वी के लोग चांद पर पलायन कर सकते हैं ?

तो अब पूरी पृथ्वी के लोग चांद पर पलायन कर सकते हैं ?

November 22, 2021

चांद के पास इतनी ऑक्सीजन है कि वह 8 अरब लोगों को 1,00,000 वर्षों तक जीवित रख सकता हैं। बेल्जियम के एक स्टार्टअप ने दावा किया हैं कि, चांद पर इलेक्ट्रोलिसिस के जरिए ऑक्सीजन को पैदा किया जा सकता हैं। ऑक्सीजन पैदा…

इंटरनेशनल सेंटर फॉर एग्रोलॉजी कार्यक्रम से जुड़ें 100 से अधिक देश

इंटरनेशनल सेंटर फॉर एग्रोलॉजी कार्यक्रम से जुड़ें 100 से अधिक देश

November 12, 2021

दयालबाग राधास्वामी सत्संग ने कृषि, बड़े पैमाने पर वनों की कटाई, पानी की कमी,पर्यावरण असंतुलन जैसी वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए विश्वव्यापी मुहिम शुरू की है। इस मुहिम का नाम इंटरनेशनल सेंटर फॉर एग्रोकोलॉजी (आईसीए) दिया गया है। इस अभियान में…

निम्बू की खेती से सालाना 15 लाख की कमाई कर रहे मॉडर्न किसान

निम्बू की खेती से सालाना 15 लाख की कमाई कर रहे मॉडर्न किसान

August 26, 2021

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के रहने वाले आलोक उपध्याय के पिता खेती करते थे. आलोक की शुरूआती पढ़ाई गांव में ही हुई. इसके बाद बीकॉम में दाखिला लिया. पूरी पढ़ाई करने के बाद आलोक ने मार्बल का बिजनेस शुरू किया. अच्छी…

उद्यान विभाग की मशरूम के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास

उद्यान विभाग की मशरूम के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास

August 3, 2021

क्षेत्रीय खाद्य अनुसंधान एवं विश्लेषण केन्द्र लखनऊ द्वारा आज 03 दिवसीय मशरूम उत्पादन एवं मूल्य संवर्धन प्रशिक्षण का तेरवॉ बैच प्रारम्भ किया गया ।इस अवसर पर निदेशक उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग डा आर० के० तोमर ने कहा कि मशरूम हमारे दैनिक…

बजाज चीनी मिल सहित 05 बड़े चीनी मिलों के खिलाफ जारी हुआ वसूली प्रमाण-पत्र

बजाज चीनी मिल सहित 05 बड़े चीनी मिलों के खिलाफ जारी हुआ वसूली प्रमाण-पत्र

August 3, 2021

लखनऊ। उत्तर प्रदेश गन्ना (पूर्ति एवं खरीद विनियमन) अधिनियम 1953 की विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत कड़ा रूख अपनाते हुए लापरवाही बरतने वाली 05 बड़े बकायेदार चीनी मिलों, जिनमें मोदी समूह की चीनी मिल मलकपुर-बागपत, चीनी मिल गड़ौरा-महराजगंज, सिम्भावली समूह की चीनी मिल…

error: Content is protected !!