सीतापुर सीएचसी गोंदलामाऊ क्षेत्र में संक्रामक रोग का भयानक कहर 58 की मौत
103

नैमिष शुक्ल। उत्तर प्रदेश जनपद सीतापुर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोंदलामऊ क्षेत्र में लगातार हो रही मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा संक्रामक रोग का भयानक कहर मौत बनकर गाँव गाँव बरस रहा है जिसका आंकड़ा 58 पहुंच चुका है लेकिन स्वास्थ्य विभाग के बड़े बड़े दावे लगातार खोखले दिख रहे है अगर स्वास्थ्य विभाग के दावे सच है तो क्यों लगातार मौत का सिलसिला जारी है ।

आपको बताते चलें कि आज ग्रामीण क्षेत्रों में 06 संक्रामक रोग से मौत हो चुकी है जिससे लगातार हो रही मौतों का 58 का आंकड़ा पार कर चुका है लेकिन स्वास्थ्य विभाग संक्रामक रोग को गंभीरता से नहीं ले रहा है यदि स्वास्थ विभाग के अधिकारियो की अगर सच्चाई देखी जाए तो फिर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोंदलामऊ के क्षेत्र में हो रही मौतों का सिलसिला संक्रामक रोग से थमने का नाम क्यों नहीं ले रहा है क्या यही है स्वास्थ्य विभाग के बड़े बड़े दावों की खोखली सच्चाई गांवों में दिख रही है ।

लगातार हो रही संक्रामक रोग की चपेट में मौतों से हताश दिखे वर्तमान भाजपा विधायक रामकृष्ण भार्गव मिश्रित विधान सभा ।

जब नमामि भारत की टीम ने क्षेत्रीय विधायक रामकृष्ण भार्गव से इस संक्रामक रोग के कहर से हो रही मौतो सेे क्षेत्रीय जनता को राहत के बारे जानकारी चाही तो उन्होंने बताया हम बहुत दुखी हैं क्षेत्रीय जनता का दुख मुझसे नहीं देखा जा रहा है जिले के जिम्मेदार उच्चाधिकारियों से मिले और कहा लेकिनकुछ नही हम कैबिनेट मंत्री स्वास्थ्य सिद्धार्थ नाथ सिंह से भी मिले क्षेत्रीय जनता का दर्द बताया तथा मुख्यमंत्री से भी मिले उनसे भी हमने कहा कि वहां पर लगातार संक्रामक रोग से मौत हो रही है फिर भी गोदलामाऊ क्षेत्र में कोई राहत नही नही मिल पा रही है ।

वहीं जब निवर्तमान विधायक रामपाल राजवंशी से क्षेत्र की जनता जो संक्रामक रोग से पीड़ित व्यक्तियों का हाल जाना तो उन्होंने बताया की जनता का दुख दर्द सुनने वाला कोई नहीं यहां पर दो दो कैबिनेट मंत्री आए लेकिन उनसे उन पीड़ित व्यक्तियों जो संक्रमित हैं उनकी सुध तक नहीं ली यहां तक कल उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने 3 जिलों के कार्यकर्ताओं के साथ आगामी चुनाव को लेकर लोक सभा संचालन समिति की बैठक की लेकिन संक्रामक रोग से पीड़ित लोगों का दुख दर्द जानने क्षेत्र में नहीं पहुंचे ।

[20:16, 9/29/2018] Naimish Shukla Sitapur: सैरपुर निवासी गयाप्रसाद उम्र 24 वर्ष निवासी बुद्धाराम बृहस्पतिवार की सुबह उनको तेज बुखार आ गया था । जिसके बाद परिजन उन्हें इलाज के लिए सिधौली प्राइवेट अस्पताल मनीष जैन के यहाँ ले गए थे । वहां कुछ देर इलाज होने के बाद भी स्वास्थ्य में कोई सुधार न होने पर वहां से उनको जवाब दे दिया गया। जिसके बाद परिजन उन्हें लेकर रात्रि में लखनऊ मेडिकल कालेज पहुचे । वहां पहुचने पर डॉक्टरों ने उन्हें म्रतक घोषित कर दिया।

जोगियाहार निवासी जीवन उम्र 65 वर्ष पुत्र चुन्नू दो दिनों से बुखार से पीड़ित थे जिन्हें परिजन इलाज के लिए सीतापुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। बृहस्पतिवार की रात इलाज के दौरान इनकी म्रत्यु हो गयी।

कोरोना निवासी विकाश उम्र 17 वर्ष पुत्र सकटु पिछले 10 दिनों से बुखार आ रहा था जो। यही के प्राइवेट में इलाज करा रहे थे यहाँ कोई फायदा न होने पर परिजन मंगलवार को उसे इलाज के लिए सिधौली के एक प्राइवेट अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया । जिसकी इलाज के दौरान आज सुबह 3 बजे म्रत्यु हो गयी।

नागवपेडी निवासी शिल्पी उम्र 19वर्ष पत्नी महिपाल को करीब 1 हफ्ते से आ रहे बुखार से मौत हो गई परिवारजनों से मिली जानकरी के अनुसार शिल्पी को कई दिनों से बुखार आ रहा था गाँव में आईं स्वास्थ विभाग की टीम से दवा भी लिया था जिससे कोई फ़ायदा नही हुआ गुरुवार ज्यादा तबियत खराब होने पर सीतापुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहाँ देर रात उसकी मौत हो गई वही महिपाल की भाई की पत्नी को भी तेज़ बुख़ार के चलते कल सुबह उन्हें भी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

जोगियाहार निवासी मोलहे उम्र 39 वर्ष पुत्र बन्ना को 5 दिनों से बुखार आ रहा था । जिन्हें परिजन मिश्रिख सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज करवा रहे थे जहाँ पर बृहस्पतिवार को मोहले की तबियत ज्यादा बिगड़ती देख डॉक्टरों ने उन्हें जिलाअस्पताल के लिए रिफर कर दिया । ज़िला अस्पताल में बृहस्पतिवार को इलाज के दौरान इनकी म्रत्यु हो गयी

जरीगवा निवासी ज्योति उम्र 1 वर्ष पुत्री सत्रोहन पिछले चार पांच दिनों से बुखार उल्टी दस्त से परेशान थी परिजन निजी अस्पताल में लडक़ी का इलाज करा रहे थे । जिसकी बृहस्पतिवार की देर रात्रि में घर पर ही म्रत्यु हो गयी ।

News Reporter

Leave a Reply