1780 केंद्रों पर 6.5 लाख से अधिक लोगों को लंच और डिनर-अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लाॅक डाउन की वजह से गरीबों को परेशानियां हो रही हैं। उन परेशानियों को दूर करने के लिए दिल्ली सरकार ने कई सारे कदम उठाए हैं। जिनके पास राशन कार्ड हैं, ऐसे 71 लाख लोगों को हम 7.5 किलोग्राम मुफ्त में राशन दे रहे हैं। सभी राशन की दुकानों से राशन मिलना शुरू हो गया है। करीब 60 प्रतिशत लोगों को राशन मिल भी चुका है।

अगले चार-पांच दिन के अंदर बचे 40 प्रतिशत लोगों को भी राशन दे दिया जाएगा। जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है। जो लोग गरीब हैं, उनको भी दिल्ली सरकार ने राशन देने की योजना बनाई है और अगले दो-तीन दिन में हम राशन देना शुरू कर देंगे। दिल्ली सरकार 8 लाख बुजुर्गों, विधवाओं और विकलांगों को 5-5 हजार रुपये पेंशन दे चुकी है और अभी 5-5 हजार रुपये और अगले सप्ताह तक उनके खाते में भेज दिए जाएंगे।

दिल्ली में निर्माण कार्य से जुड़े लगभग सभी लोगों को भी 5-5 हजार रुपये दे रहे हैं, ताकि उन्हें भी मदद मिल सके। इसके साथ ही आॅटो, ई-रिक्शा, ग्रामीण सेवा और आरटीवी समेत पब्लिक सेवा से संबंधित वाहनों के चालकों को भी 5-5 हजार रुपये दिए जा रहे हैं, ताकि उन्हें भी कोई दिक्कत नहीं हो। इसके अलावा, गरीब लोगों को खाने की कोई दिक्कत न हो।

दिल्ली में कोई भूखा नहीं रहे। इसके लिए दिल्ली में 1780 केंद्रों पर लंच और डिनर दिया जा रहा है। कल 1780 केंद्रों पर 652850 लोगों ने लंच किया। इसी तरह 630000 लोगों ने रात में डिनर किया। जैसा कि हमने बताया था कि दिल्ली सरकार के पास अब 10 लाख लोगों खाने का इंतजाम है, लेकिन अब खाना खाने के लिए लोग कम आ रहे हैं, बल्कि खाना खाने के केंद्र अधिक हैं। दिल्ली से पलायन करके जो लोग अपने घर जाना चाहते थे।

इन लोगों को हमने सांत्वना दी थी कि रहने का इंतजाम है। जिसके बाद यह लोग रूक गए। इनके पास रहने के लिए छत नहीं है। ऐसे लोगों के लिए 328 स्थानों पर रहने का इंतजाम किया है। इन 328 केंद्रों पर 57270 लोगों के रहने का इंतजाम किया है। अभी वहां पर केवल 11443 लोग रह रहे हैं। अभी हमारे पास बहुत सारे लोगों के रहने का इंतजाम है।

Leave a Reply