समूह ‘ग’ के 30 हजार पदों के लिए 20 अगस्त को होगी परीक्षा, सिलेबस जारी

लखनऊ :UPSSSC PET 2021- उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) 20 अगस्त को समूह ‘ग’ के 30 हजार पदों के लिए प्रारम्भिक अर्हता परीक्षा (PET 2021) कराएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंजूरी के साथ ही आयोग ने परीक्षा का पाठ्यक्रम जारी कर दिया है, जिसमें अंग्रेजी अनिवार्य विषय के रूप में रखी गई है। परीक्षा दो घंटे की होगी और दो पालियों में होगी। परीक्षा 100 अंकों की होगी। गलत सवाल पर निगेटिव मार्किंग होगी। प्रारंभिक अर्हता परीक्षा का परिणाम सितंबर में घोषित किया जाएगा। अगले महीने यानी अक्टूबर में मुख्य परीक्षा आयोजित की जाएगी।

आयोग (Uttar Pradesh Subordinate Services Selection Commission) के अध्यक्ष प्रवीर कुमार ने बताया कि प्रारंभिक अर्हता परीक्षा में 20,73,540 परीक्षार्थी शामिल होंगे। समूह ‘ग’ के 30 हजार पदों के लिए पेट की परीक्षा करीब 3000 केंद्रों पर दो पालियों में होगी। परीक्षा के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जाएगा। परीक्षा की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इस संबंध में मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों को पत्र भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि परीक्षा केंद्र बनाने में सरकारी व सहायता प्राप्त स्कूलों को प्राथमिकता दी जाएगी। इसके अलावा अच्छी सुविधाओं वाले निजी कॉलेजों और स्कूलों पर भी विचार किया जाएगा।

सिलेबस जारी, अंग्रेजी अनिवार्य अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) ने अभ्यर्थियों की सुविधाओं के लिए पेट का पाठ्यक्रम (PET 2021 Syllabus) जारी कर दिया है। पहली बार समूह-ग के पदों पर भर्ती के लिए अंग्रेजी विषय को अनिवार्य किया गया है। सिलेबस में भारतीय इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भूगोल, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारतीय संविधान, सामान्य विज्ञान, प्रारंभिक अंकगणित, सामान्य हिन्दी, सामान्य अंग्रेजी व तर्क एवं तर्कशक्ति से जुड़े पांच-पांच अंक के सवाल होंगे। इसके अलावा सामायिकी, सामान्य जागरूकता, हिन्दी, ग्राफ की व्याख्या, तालिका की व्याख्या से जुड़े 10-10 अंक के सवाल होंगे।

Group C- पदों का ब्योरा लेखपाल- 7882 लिपिक- 8555 लेखा परीक्षक- 1303 ग्राम्य विकास- 1658 परिवार कल्याण- 9222 बाल विकास पुष्टाहार- 3448 नगर निकाय- 383

News Reporter
पंकज चतुर्वेदी 'नमामि भारत' वेब न्यूज़ सर्विस में समाचार संपादक हैं। मूल रूप से गोंडा जिले के निवासी पंकज ने अपना करियर अमर उजाला से शुरू किया। माखनलाल लाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय से पत्रकारिता में परास्नातक पंकज ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी में पत्रकारिता की और पंजाब केसरी के साथ काम करते हुए राष्ट्रीय राजनीति को कवर किया है। लेकिन मिट्टी की खुशबू लखनऊ खींच लाई और लोकमत अखबार से जुड़कर सूबे की सियासत कवर करने लगे। 2017 में पंकज ने प्रिंट मीडिया से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की तरफ रुख किया। उत्तर प्रदेश के प्रतिष्ठित चैनल न्यूज वन इंडिया से जुड़कर पंकज ने प्रदेश की राजनीतिक हलचलों को करीब से देखा समझा। 2018 से मार्च 2021 तक जनतंत्र टीवी से जुड़े रहें। पंकज की राजनीतिक ख़बरों में विशेष रुचि है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही पॉलिटिकल रिपोर्टिंग की तरफ झुकाव रहा है। वह उत्तर प्रदेश की राजनीति की बारीक समझ रखते हैं।

Leave a Reply