महागठबंधन तो हो गया दूल्हा कौन बनेगा – मेनका गांधी ने ली चुटकी
273

पीलीभीत । संसदीय क्षेत्र में अपने दो दिवसीय दौरे पर आई केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता कर केंद्र सरकार की 4 साल की  उपलब्धिया गिनायी। इस बीच वे पीलीभीत की उपलब्धियाँ भी गिनाने से नहीं चूँकीं। मोदी सरकार की तारीफ़ करते हुये मेनका बोलीं जितना काम इस सरकार में हुआ उतना किसी और सरकार में नहीं हुआ। महागठबंधन के सवाल पर मेनका ने व्यंगात्मक चुटकी भी ली।

मोदी सरकार की तारीफो के साथ पीलीभीत में हुये विकास पर उन्होने कहा कि मैं पहले भी दूसरी सरकारों में सांसद रही, हमने कभी सोचा भी नहीं था कि एक दिन ऐसा आयेगा कि हर घर में शौचालय बनेगें, हर गांव में बिजली आयेगी। हर घर में गैस कनैक्शन आयेगें। हर किसी का बैंक में खाता खुलेगा। उन्होने इतिहास के पन्नों को खोलते हुये बताया कि पहले गैस के एक सांसद को सौ कूपन ही मिलते थे, घबराहट होती थी कि किस-किस को दूॅ। आज 2 सालों में एक लाख परिवारों को गैस कनैक्शन दिये। पहले कहा जाता था कि गैस है ही नही तो अब कहाॅ से आ रही है। पहले बोला जाता था कि बिजली नहीं है तो अब कहाॅ से बिजली की तारे, खम्बे बिजली कहाॅ से आ रही है।

महा गठबंधन के सवाल पर मेनका ने उसकी तुलना किसी राजा की बेटी के स्वंयवर से कर डाली। कहा कि जब राजा के दरबार में जो कोई भी शिव का धनुष उठाकर तोडेगा उसका स्वयंवर सीता से होगा। तो उस वक्त सभी एक हो गये और धनुष उठाने की बात करने लगे। सभी ने मिलकर यह सोंच आखिर दूल्हा कौन बनेगा। यह भी तो परेशानी है। यह है महा गठबंधन अगर यह सब मिलकर शिव का धनुष उठा भी लेते है तो इनमें से दूलहा कौन बनेगा। महा गठबंधन के दूलहा के बारे में पूछा तो वो बोली कि मैं कौन होती हूॅ बनाने वाली।

वहीं भाजपा के कुछ लोग द्वारा सांसद के टिकट की दावेदारी करने वालो पर वे बोली कि किसी को मालूम है कि एमपी बनना क्या होता है, सभी को लगता है कि एक तोहफा है।

Leave a Reply