; न्यू जेनरेशन के शिक्षक तैयार करने के लिए केजरीवाल सरकार बनाएगी दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी, कैबिनेट की मंजूरी - Namami Bharat
1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
न्यू जेनरेशन के शिक्षक तैयार करने के लिए केजरीवाल सरकार बनाएगी दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी, कैबिनेट की मंजूरी

*- दिल्ली में उत्कृष्ट गुणवत्ता के शिक्षक तैयार करने के लिए हम दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बनाने जा रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

*- अगले विधानसभा सत्र में दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बिल होगा पेश, सत्र 2022-23 से शुरू होगा एडमिशन- अरविंद केजरीवाल

*- 12वीं के बाद छात्र बीए बीएड, बीएसी बीएड और बी.कॉम बीएड के चार वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम में ले सकेंगे एडमिशन- अरविंद केजरीवाल

*- यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले बच्चे दिल्ली सरकार के स्कूलों से अटैच होंगे, जिससे वे थ्यूरोटिकल के साथ प्रैक्टिकल ट्रेनिंग भी ले सकेंगे- अरविंद केजरीवाल

*- शिक्षकों की ट्रेनिंग के लिए दुनिया भर के अच्छे इंस्टीट्यूट से सहभागिता करेंगे और इसमें बेस्ट टीचर तकनीक्स के उपर रिसर्च होगी- अरविंद केजरीवाल

*- उम्मीद करता हूं कि दिल्ली में अच्छे टीचर तैयार करने की दिशा में यह बहुत ही क्रांतिकारी कदम साबित होगा- अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल सरकार न्यू जेनरेशन के शिक्षक तैयार करने के लिए दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी की स्थापना करने जा रही है। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में दिल्ली कैबिनेट ने आज इसके प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। इस संबंध में सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में उत्कृष्ट गुणवत्ता के शिक्षक तैयार करने के लिए हम यह यूनिवर्सिटी बनाने जा रहे हैं। अगले विधानसभा सत्र में दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बिल पेश होगा और सत्र 2022-23 से एडमिशन प्रक्रिया शुरू होगी। 

12वीं के बाद छात्र बीए बीएड, बीएसी बीएड और बी.कॉम बीएड के चार वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम में एडमिशन ले सकेंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले बच्चे दिल्ली सरकार के स्कूलों से अटैच होंगे, जिससे वे थ्यूरोटिकल के साथ-साथ प्रैक्टिकल ट्रेनिंग भी ले सकेंगे। शिक्षकों की ट्रेनिंग के लिए दुनिया भर के अच्छे इंस्टीट्यूट से सहभागिता करेंगे और इसमें बेस्ट टीचर तकनीक्स के उपर रिसर्च भी होगी। उम्मीद करता हूं कि दिल्ली में अच्छे टीचर तैयार करने की दिशा में यह बहुत ही क्रांतिकारी कदम साबित होगा।

दिल्ली में अच्छी गुणवत्ता के शिक्षक तैयार करने के लिए दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बनाने जा रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में आज दिल्ली सचिवालय में कैबिनेट की बैठक संपन्न हुई। कैबिनेट की बैठक में दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी स्थापित करने का प्रस्ताव रखा गया, जिसे सर्व सम्मति से मंजूरी दे दी गई। इस यूनिवर्सिटी का मकसद दिल्ली में उच्च गुणवत्ता के शिक्षक तैयार करने हैं। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आज दिल्ली कैबिनेट की बैठक हुई, जिसमें एक सबसे अहम फैसला लिया गया कि हम दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बनाने जा रहे हैं। दिल्ली में अच्छी गुणवत्ता के शिक्षक तैयार करने के लिए यह यूनिवर्सिटी बनाने जा रहे हैं। इसका एक कानून लाया जा रहा है और उस कानून को आज दिल्ली की कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। आने वाले विधानसभा सत्र में दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी बिल को पेश किया जाएगा।

यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले बच्चों को दिल्ली सरकार के स्कूलों के साथ अटैच किया जाएगा- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि हमारा मकसद है कि इस यूनिवर्सिटी के द्वारा उत्कृष्ट गुणवत्ता के शिक्षक तैयार किए जाएं। इसमें इंटीग्रेटेड कोर्स दिए जाएंगे। 12वीं के बाद 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम होगा। इसमें बीए बीएड, बीएसी बीएड और बी.कॉम बीएड प्रोग्राम शामिल होंगे। एक तरह से इस यूनिवर्सिटी में न्यू जेनरेशन टीचर्स तैयार किए जाएंगे। जब बच्चे इस यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे होंगे, उनको दिल्ली सरकार के स्कूलों के साथ अटैच किया जाएगा। इस तरह उनको ट्रेनिंग के साथ-साथ नौकरी भी मिलती रहेगी। चार साल की ट्रेनिंग अवधि में वे सरकारी स्कूलों के साथ भी अटैच रहेंगे। इस दौरान वे थ्यूरोटिकल ट्रेनिंग भी ले सकेंगे और उनको प्रैक्टिकल ट्रेनिंग भी बहुत अच्छे तरीके से मिलती रहेगी।

यूनिवर्सिटी में सत्र 2022-23 से एडमिशन प्रक्रिया शुरू होगी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस यूनिवर्सिटी में 2022-23 के एकेडिमिक सेशन में एडमिशन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। टीचर को तैयार करने के लिए यह एक तरह से सेंटर फॉर एक्सिलेंस होंगे। इसमें हम शिक्षकों की ट्रेनिंग के लिए नेशनल और इंटरनेशनल स्तर की सहभागिता लेंगे। दुनिया भर के सबसे अच्छे इंस्टीट्यूट के साथ हम सहभागिता करेंगे। इसमें बेस्ट टीचर तकनीक्स के उपर रिसर्च होगी। मैं उम्मीद करता हूं कि दिल्ली में अच्छे टीचर तैयार करने की दिशा में यह बहुत ही क्रांतिकारी कदम साबित होगा।

ख्याति प्राप्त लोग नियुक्त होंगे दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी के कुलपति और प्रोफेसर

दिल्ली सरकार, दिल्ली में स्कूल स्तर पर उत्कृष्ट गुणवत्ता वाले शिक्षकों को तैयार करने के लिए एक समर्पित सार्वजनिक विश्वविद्यालय के तौर पर ‘दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी’ स्थापित करने का निर्णय लिया है। दिल्ली सरकार ने प्रस्तावित किया है कि दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी के कुलपति और प्रोफेसर विश्व स्तरीय ख्याति प्राप्त विद्वान नियुक्त किए जाएंगे। दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी को बक्करवाला गांव के पास स्थापित करने को प्रस्तावित किया गया है। यह यूनिवर्सिटी स्कूल स्तर पर, शिक्षा अध्ययन, नेतृत्व और नीति के क्षेत्रों में पूर्व सेवा और सेवाकालीन दोनों चरणों में शिक्षकों को तैयार करने में उत्कृष्ट केंद्र के रूप में विकसित होगा।

दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी मल्टीडिसेप्लिनरी शैक्षणिक केंद्र के रूप में करेगा कार्य

दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी मल्टीडिसेप्लिनरी शैक्षणिक केंद्र के रूप में काम करेगा, जो विभिन्न हितधारकों (अभ्यास करने वाले और इच्छुक टीचर्स, टीचर एजुकेटर्स, माता-पिता, प्रशासक, पॉलिसी प्लानर्स और कंटेंट डेवलपर्स आदि) को कार्यक्रमों और गतिविधियों की एक श्रृंखला के माध्यम से एक साथ संवाद में लाता है।

शिक्षा की उत्कृष्ट गुणवत्ता प्रदान करने के उद्देश्य की पूर्ति करेगी दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी

दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी, दिल्ली के लोगों के लिए उत्कृष्ट गुणवत्ता की सार्वजनिक शिक्षा की व्यवस्था करने के उद्देश्यों की पूर्ति करेगी। यूनिवर्सिटी के जरिए दिल्ली में पब्लिक स्कूल शिक्षा में शुरू किए गए सुधारों के साथ पंक्तिबद्ध करने और इन्हें एक साथ लाने की परिकल्पना की गई है। ये सुधार पब्लिक स्कूल शिक्षा के विभिन्न पहलुओं में शामिल हैं, जिनमें बुनियादी ढांचे का नवीनीकरण, पाठ्यक्रम और सीखने के परिणामों से संबंधित सुधार और कई अन्य लोगों के बीच ऑन-साइट शिक्षक सहायता के लिए शिक्षक कार्यक्रम शामिल हैं।

News Reporter
पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बनाने वाली निकिता सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से ताल्लुक रखती हैं पिछले कुछ सालों से परिवार के साथ रांची में रह रहीं हैं और अब देश की राजधानी दिल्ली में अपनी सेवा दे रहीं हैं। नेशनल ब्रॉडकास्टिंग अकादमी से पत्रकारिता में स्नातक करने के बाद निकिता ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के न्यूज़ पोर्टल्स में काम किया। उन्होंने अपने कैरियर में रिपोर्टिंग से लेकर एंकरिंग के साथ-साथ वॉइस ओवर में भी तजुर्बा हासिल किया। वर्त्तमान में नमामि भारत वेब चैनल में कार्यरत हैं। बदलती देश कि राजनीती, प्रशासन और अर्थव्यवस्था में निकिता की विशेष रुचि रही है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही आम जन मानस को प्रभावित करने वाली खबरों पर पैनी नज़र रखती आ रही हैं। बेबाकी से लिखने के साथ-साथ खाने पीने का अच्छा शौक है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ में योगदान जारी है।
error: Content is protected !!