गोद लिए कुपोषित बच्चे को देखने आंगनवाडी केन्द्र पहुँचे मुख्यकोषाधिकारी
114
सन्तोषसिंह नेगी/चमोली। मुख्य कोषाधिकारी वीरेन्द्र कुमार विकास खण्ड पोखरी के सलना गांव पहुंचे, जहां उन्होंने गांव की आंगनवाडी में कुपोषित बच्चे अमित कुमार को देखा और बच्चे की माता व दादी को बच्चे को संतुलित भोजन व नियमित दूध पिलाने की सलाह दी। इस दौरान उन्होंने घर में दूध उपलब्ध होने की जानकारी भी ली। कहा कि परिवार के दूध का र्खच वहन न करने की स्थिति में वे स्वयं इसका खर्चा वहन करेंगे। साथ ही कहा कि आवश्यकता पडने पर चिकित्सक से सलाह लेकर बच्चे का चिकित्सा उपचार कराकर सामान्य बच्चों की तरह रहने के लिये पूरे प्रयास किये जायेंगे।
इस अवसर पर उन्होंने बच्चे का वजन भी कराया तथा बच्चे को च्वयनप्रास व फल भी दिये। इसके साथ ही आंगनबाडी की सुपवाइजर से कहा कि वह पुनः अपै्रल माह में बच्चे को देखने आयेंगे। उन्होंने कहा कि मानकों के अनुसार बच्चे का वास्तविक वजन 13 किग्रा0 होना चाहिए था जबकि अभी बच्चे का बजन 10.100 किलोग्राम है, जो कम है। जिस कारण बच्चा कुपोषित की श्रेणी में है, बाकी बच्चे का स्वास्थ्य सामान्य हैं।
विदित हो कि जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया की पहल पर राष्ट्रीय बालिका दिवस पर जिले के 05 कुपोषित बच्चों को जिला स्तरीय अधिकारियों ने गोद लिया था। जिसमें मुख्य कोषाधिकारी वीरेन्द्र कुमार ने विकास खण्ड पोखरी के सलना गांव निवासी राजेश लाल के कुपोषित बच्चा अमित कुमार को गोद लिया गया था। इसी क्रम में मुख्य कोषाधिकारी बच्चे को देखने के लिये आगंवाडी केन्द्र सलना पहॅुचे थे।

Leave a Reply