शाहीन बाग की पट कथा से लेकर दोनों तरफ के पात्र BJP के थे-सौरभ भारद्वाज

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि शाहीनबाग में फायरिंग कर दिल्ली का माहौल खराब करने वाला कपिल गुर्जर भाजपा में शामिल हो गया है। शाहीनबाग का आंदोलन चलाने वाले और उसमें गोली चलाने वाले लोग अब भाजपा में शामिल हो रहे हैं। इससे साफ हो गया कि भाजपा ने विधानसभा चुनाव में सिर्फ फायदा लेने के लिए दिल्ली का माहौल खराब किया था। उस वक्त दिल्ली पुलिस के डीसीपी ने कपिल गुर्जर को आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता होने का दावा किया था और भाजपा ने उसे सांसद संजय सिंह का करीबी बताया था। साथ ही, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कपिल गुर्जर को आतंकवादी बताया था और आम आदमी पार्टी पर आतंकवादियों को शय देने का आरोप लगाया था। आम आदमी पार्टी जानना चाहती है कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी हो गई थी कि भारतीय जनता पार्टी को ऐसे आतंकवादियों को अपनी पार्टी में शामिल करना पड़ रहा है?

पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरव भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में भारतीय जनता पार्टी ने तमाम विकास के मुद्दों को छोड़कर अपना पूरा चुनाव केवल शाहीन बाग के मुद्दे पर केंद्रित किया था और दिल्ली का पूरा माहौल सांप्रदायिक कर दिया था। हिंदू संप्रदाय में और मुस्लिम संप्रदाय में एक दूसरे के प्रति जहर घोला जा रहा था। केवल और केवल अपना राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए भारतीय जनता पार्टी दिल्ली का माहौल इस तरह से गंदा कर रही थी, इस तरह से जहर फैला रही थी कि सभी राजनीतिक और सामाजिक जानकार यह कह रहे थे कि दिल्ली में कभी भी दो समुदायों के बीच में सांप्रदायिक दंगे हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि जब शाहीन बाग का आंदोलन चल रहा था, हमने उस वक्त कहा था कि इस आंदोलन की शुरुआत कुछ प्रजातांत्रिक सोच रखने वाले लोगों ने शुरु जरूर किया है, परंतु अब भारतीय जनता पार्टी अपना चुनावी स्वार्थ साधने के लिए इसका इस्तेमाल कर रही है, भाजपा के लोग इस आंदोलन को कंट्रोल कर रहे हैं। उस समय शाहीन बाग का माहौल ऐसा था कि एक छोटी सी घटना भी उस आंदोलन को दंगों में तब्दील कर सकती थी और इस प्रकार की कोशिशें भी की गई। सौरभ भारद्वाज ने बताया कि दिल्ली चुनाव से ठीक कुछ दिन पहले कपिल बसोया उर्फ कपिल गुर्जर नाम का एक व्यक्ति साइन बाग पहुंचा, पिस्तौल के साथ पहुंचा, बीजेपी द्वारा लगाए जाने वाले नारे लगाए और उसके बाद उसने वहां पर पिस्तौल से फायरिंग भी की। पुलिस मूकदर्शक बनकर बैठी रही। उन्होंने कहा कि हमने उस वक्त भी कहा था कि भाजपा सिर्फ एक चीज की कोशिश कर रही है कि किसी प्रकार से दिल्ली में दो समुदायों के बीच दंगे हो जाएं।

उन्होंने कहा कि उसके बाद सब ने देखा और भाजपा के लोगों ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस बात को बताया कि शाहीन बाग आंदोलन के बड़े नेता भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो रहे हैं। कल एक और खबर सामने आई है कि कपिल गुर्जर जिन्होंने पिस्तौल दिखाकर शाहीन बाग में हिंसा फैलाने की कोशिश की थी, उन्होंने भी भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है। उन्होंने कहा कि यह बात अब बिल्कुल साफ हो जाती है। क्योंकि शाहीन बाग आंदोलन के दोनों तरफ के किरदार, शाहीन बाग आंदोलन कराने वाले भी और उन पर गोली चलाने वाले लोग भी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अब यह बात बिल्कुल साफ हो जाती है कि सिर्फ और सिर्फ चुनावी लाभ उठाने के लिए भाजपा ने दिल्ली के अंदर माहौल खराब किया और फिर दिल्ली के अंदर दंगे हुए।

इस कड़ी में एक और महत्वपूर्ण पहलू की जानकारी देते हुए सौरभ भारद्वाज ने कहा कि जब कपिल गुर्जर इस घटना के बाद पकड़ा गया, तो खुद दिल्ली पुलिस के डीसीपी महोदय ने यह कहा कि आरोपी कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी का सदस्य है। केवल यही नही, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक बयान जारी करते हुए कहा था कि यह कपिल गुर्जर एक आतंकवादी है और आम आदमी पार्टी आतंकवादियों को शय देने वाली पार्टी है। मीडिया के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से प्रश्न पूछते हुए सौरभ भारद्वाज ने कहा कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी हो गई थी कि भारतीय जनता पार्टी को ऐसे आतंकवादियों को अपनी पार्टी में शामिल करना पड़ रहा है?

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने उस समय आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद एवं वरिष्ठ नेता संजय सिंह जी पर भी इस बात के आरोप लगाए थे कि यह कपिल गुर्जर नामक व्यक्ति संजय सिंह जी का करीबी है। इस संबंध में संजय सिंह जी की ओर से जारी एक बयान का वीडियो भी सौरभ भारद्वाज ने प्रेस वार्ता में प्रस्तुत किया, जो कि प्रेस विज्ञप्ति के साथ संलग्न है।

Leave a Reply