नर्सरी उत्पादन की उपयोगिता को डॉ राहुल कुमार ने विस्तार से समझाया

शुक्रवार को प्रधानमंत्री ग़रीब कल्याण रोज़गार अभियान के अंतर्गत महायोगी गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र, चौकमाफ़ी, पीपीगंज, गोरखपुर द्वारा “नर्सरी उत्पादन” विषय पर आयोजित तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए केंद्र के प्रसार वैज्ञानिक डाक्टर राहुल कुमार सिंह ने नर्सरी उत्पादन की उपयोगिता के विषय में बताया। कार्यक्रम की अध्यक्षता केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डाक्टर आर. पी. सिंह ने नर्सरी उत्पादन में रोगों एवं कीटों से बचाव के उपायों को विस्तार से बताया। डॉ अजीत कुमार श्रीवास्तव विशेषज्ञ उद्यान ने नर्सरी उत्पादन से संबंधित तीन दिवसीय कार्यक्रम की विस्तृत तकनीकी एवं प्रयोगात्मक पहलुओं पर कृषकों को पिछले दो दिनों में जो जानकारियां दी गई मुख्य अतिथि के समक्ष विस्तार से प्रस्तुत की।

इसके साथ ही साथ केंद्र के डॉ राहुल कुमार सिंह विशेषज्ञ प्रसार ने एक प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम का संचालन किया जिसके निर्णायक मंडल में मुख्य अतिथि, केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष विशेषज्ञ उद्यान एवं विशेषज्ञ मृदा विज्ञान शामिल हुए। विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के रूप मे उपस्थित डॉ डी के वर्मा, उप निदेशक उद्यान ने उत्पादन एवं विपणन से संबंधित नवीनतम तकनीकों को बताने के साथ ही साथ उनकी समस्याओं का भी मौके पर निस्तारण किया। उपनिदेशक महोदय ने शासन द्वारा उद्यानिकी विकास के लिए चलाई जा रही समस्त योजनाओं को विस्तार से बताया। इस अवसर पर यूपीएल कंपनी के क्षेत्रीय प्रबंधक श्री सौरभ श्रीवास्तव ने कीड़ों एवं बीमारियों के निदान के लिए दवाओं का उचित प्रयोग बताया। इस अवसर पर प्रतिभागी कृषकों को मुख्य अतिथि द्वारा प्रमाण पत्र एवं नरेंद्र शिवानी लौकी की प्रजाति के केंद्र द्वारा उत्पादित नर्सरी के 2-2 पौधे भी वितरित किए गए कार्यक्रम में केंद्र के समस्त वैज्ञानिक एवं कर्मचारीयों सहित कुल 36 कृषक उपस्थित रहे।

Leave a Reply