पुलिस लाईन वन महोत्सव का हुआ आयोजन,1000 पौधों का हुआ रोपण
189

गोण्डा(उत्तर प्रदेश)शुक्रवार को पुलिस लाइन गोण्डा में भव्य वन महोत्सव आयोजित कर शानदार वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि देवीपाटन मण्डल के आयुक्त सुधेश कुमार ओझा तथा विशिष्ट अतिथि डीआईजी देवीपाटन परिक्षेत्र अनिल कुमार राय, डीएम गोण्डा कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव तथा एसपी लल्लन सिंह सहित अन्य अधिकारियों तथा जिले के गणमान्य व्यक्तियो ने भी पौध रोपण किया। डीएफओ आर0के0 त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस लाइन में एक हजार पौधे रोपित किए गए।

बताते चलें कि पुलिस लाइन में एक समाचार पत्र द्वारा वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे आयुक्त देवीपाटन मण्डल ने दीप प्रज्ज्वलित कर वन महोत्सव का शुभारम्भ करने के उपरान्त कहा कि वृक्ष हमारे जीवन में एहम भूमिका निभाते हैं। भविष्य में वातावरण को संतुलन बनाए रखने के लिए वृक्ष लगाना आवश्यक है। वृक्ष ही भूमि को बंजर होने से रोकते हैं। इसीलिए हमें ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने चाहिए वन महोत्सव का मुख्य उदेश्य लोगों को पेड़ों के प्रति जागरूक करना है। वन महोत्सव सन् 1950 में शुरू किया गया था।

हमारे भारत देश में पेड़ों की विशेष रूप से पूजा की जाती है यहां के लोग पेड़ों को देवता के रूप में पूजते हैं कुछ पेड़ों की पत्तियां और टहनियों को तो विशेष पूजा में इस्तेमाल किया जाता है जिससे ज्ञात होता है के प्राचीन समय से ही मनुष्य पेड़ों की पूजा अर्चना करता आ रहा है। परन्तु पेड़ों की अंधा-धुंध कटाई के कारण केवल पर्यावरण को ही नुक्सान नहीं हुआ बल्कि जीव जंतु खत्म हो गए पेड़ों पर रहने वाले पक्षी अलोप हो गए। उन्होने मण्डल के लोगों का आहवान करते हुए कहा कि वे सब इस पुनीत कार्य में भागीदार बनें। डीआईजी ने वृक्षारापण कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए कहा कि वनों के मानव जाति को फायदे ही फायदे हैं यदि मानव अपने स्वार्थ के लिए इसी तरह वृक्षों की कटाई करता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब मानव खुद अपने विनाश का कारण बनेगा। वृक्षों की कटाई के कारण कुदरत इसका बदला हमसे ले रही है बाढ़ , सूखा ,फैलता हुआ प्रदूषण आदि के रूप में हमें परिणाम मिल रहे हैं। जिलाधिकारी कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने कहा कि मनुष्य को वृक्षों के महत्व को समझना चाहिए के वे उनके मित्र हैं जो सुख -दुख में उनकी मदद करेंगे और हमें सब को एक वृक्ष तो अवश्य लगाना चाहिए और उनकी देखभाल करें। भारत सरकार ने वृक्ष रक्षा हेतु कई कठोर नियम बनाये हैं ता जो वृक्षों की कटाई को रोका जा सके और हर वर्ष वन महोत्सव के दिनों में लाखों पेड़ -पौधे लगाकर लोगों को इनके प्रति जागरूक किया जाता है बस देर है हमें इनके महत्व को समझने की और हर वर्ष कम से कम एक पेड़ लगाने की। उन्होने उपस्थित लोगों से संकल्प दिलवाया कि वे भी अपने-अपने घरों, कार्यालयों आदि में एक पेड़ जरूर लगाएं तथा उसकी देखभाल अपने परिवार के सदस्य की तरह करें। एसपी लल्लन सिंह ने कहा कि वृक्ष हें तो हम हैं। इसलिए सब लोग वृक्ष लगाएं और इस पावन कार्य में सहभागी बनें।

वन महोत्सव के दौरान मुख्य वन संरक्षक, सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव, एडिशनल एसपी पूर्वी मणिलाल पाटीदार, सिटी मजिस्ट्रेट पीडी गुप्ता, सीओ सिटी ब्रम्ह सिंह, बीएसए आर0के0 वर्मा, डीडी एगीकल्चर मुकुल तिवारी, डा0 संजय त्रिपाठी, डा0 अल्का पाण्डेय, डा0 रेनू अग्रवाल, डा0 महबूब आलम, मतलूब खां, रंगेश अग्रवाल, संजू छाबड़ा, उमेश शाह, एसपी मिश्र, जानकी शरण द्विवेदी, नीरज मौर्य, क्रान्ति सिंह, राजेश सिंह, ओम शकर यादव, आनन्द सिंह सहित अन्य गणमान्य जन उपस्थित रहे।

-पंकज भारती की रिपोर्ट

Leave a Reply