दीप प्रज्जवलन गिनीज बुक ऑफ़ वर्ड रिकाॅर्ड में दर्ज होने को तैयार
49

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का तीन दिवसीय दीपोत्सव का दूसरा दिन सिने गायिका पद्मभूषण डॉक्टर अनुराधा पौडवाल की भजन संध्या को समर्पित रहा, राम कथा पार्क में भजन संध्या की शुरुआत गायत्री मंत्र से हुआ और फिर राम रतन धन पायो, तू ही माता तू ही पिता जैसे भजन और रामचरितमानस की चौपाइयों से अनुराधा ने श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया, भजन की स्वर लहरी में श्रोता गोते लगाते रहे और भजन के माध्यम से सृजित भक्तिमय वातावरण में झूमते रहे, बीच-बीच में श्रोताओं की करतल ध्वनि से वातावरण गुंजायमान हो रहा था, अयोध्या पहुंची अनुराधा पौडवाल भी राममय हो गईं और मंच से कह डाला के मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम का मंदिर बनना चाहिए, इससे पहले राम की पैड़ी पर रामायण आधारित प्रसंगों की रंगोली की प्रतियोगिता संपन्न की गई, जिसमें देश भर से आए 54 टीमों के 540 प्रतिभागियों ने भाग लिया,  रंगोली की कृतियों से राम की पैड़ी का किनारा रामलीला के प्रसंगों का एक प्रभावशाली गवाह बन गया,इसी के साथ ही आज ही राम की पैड़ी के 12 घाटों पर 335000 दीपों को संजो दिया गया,जिनमें बाती भी लगा दी गई और अब तेल डालने का काम कल किया जाएगा, इतने दिए एक साथ जब प्रज्वलित होंगे तो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो ही जाएंगे,यही आयोजकों का लक्ष्य है।

दीपोत्सवदीप प्रज्जवलन की जिम्मेदारी निभा रहे डॉ राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.मनोज दीक्षित पूरी तरह आश्वस्त हैं,कि इस बार दीप प्रज्जवलन गीनीज बुक ऑफ़ वार्ड रिकार्ड में दर्ज  हो जाएगा,उन्होंने कहा कि पांच हजार वालेंटियर अपने ग्रुप के साथ लगे हुए हैं और कोई कोर-कसार नहीं छोडी जा रही है,तो विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं काफी उत्साहित हैं और भगवान् राम की अगवानी के धार्मिक आयोजन से अपने को धन्य मान रहे हैं |

Leave a Reply