कांग्रेस युवा नेता आशीष गुप्ता ने गांव पहुंचकर जाना पीड़ित का हाल

सुधांशु पुरी/मनोज वर्मा

सीतापुर /बिसवाँ- बीते दिनों ब्लाक- सकरन के अंतर्गत ग्राम मजलिसपुर निवासी राकेश की 15 वर्षीय पुत्री रोहिनी ने भुखमरी के कारण आत्मदाह कर लिया था। वहीं आज पीड़ित परिवार से युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष व इस्पात मंत्रालय भारत सरकार के पूर्व सदस्य आशीष गुप्ता मिले व परिवार का हालचाल जाना व हर सम्भव मदद का आश्वासन दिया।

पीड़िता की माँ ने कांग्रेस नेता को बताया कि घर में एक ही रोटी रखी थी जिसको छोटे लड़के ने खा लिया था, भूख से परेशान लड़की ने कैरोसीन का तेल छिड़क कर खुद को आग लगा लिया था, लगभग 70 प्रतिशत जल चुकी है लड़की जो कि अब गम्भीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती है।
पीड़ित परिवार के पास नाम मात्र की खेती 8 बिसुआ है और परिवार मजदूरी पर ही निर्भर है। परिवार अंत्योदय कार्ड धारक है लेकिन राशन समय पर नहीं मिलता है।
मनरेगा जॉब कार्ड धारक है परंतु अभी तक कार्य नहीं मिला है। घर के नाम पर मात्र टीन शेड पड़ा है और प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लाभ नहीं मिला है। मिट्टी के चूल्हे पर खाना बनता है, उज्वला योजना का लाभ नहीं मिला है।

इस मौके पर श्री गुप्ता ने कहा कि भाजपा सरकार सुशासन का दावा तो करती है परंतु जमीनी हकीकत कुछ और ही है। सरकार सिर्फ कागजों पर ही योजनाओं को चला रही है, धरातल पर कहीं कुछ काम नहीं हो रहा है। 21वीं सदी में यदि कोई व्यक्ति भूख के कारण अपनी जान गँवा दे तो यह वाकई मानवता को शर्मसार करने वाली घटना होगी।
श्री गुप्ता ने सरकार से माँग की कि पीड़ित परिवार को हर सम्भव सरकारी योजना का लाभ दिया जाए और यह भी जांच की जाए कि अभी तक पीड़ित परिवार योजनाओं के लाभ से वंचित कैसे रहा।
श्री गुप्ता के साथ प्रमुख रूप से छात्र संगठन के जिलाध्यक्ष शुभम रस्तोगी, सचिव शिवम जायसवाल, कमलेश गुप्ता, प्रेम कुमार वर्मा, राहुल, रमेश भार्गव, सूरज सहित तमाम ग्रामीण उपस्थित रहे।

Leave a Reply