दो सिर वाले नवजात शिशु का सैफई मेडिकल कालेज में हुआ सफल आप्रेशन

बहराइच। एक विचित्र दो सिर वाले नवजात को स्वास्थ्य महकमे ने चमत्कार कर उसका सफल आप्रेशन कर नया जीवन दान दिया है।जानकारी के मुताबिक जनपद जरवल स्थित घूरन पुर के राहुल कुमार का छः माह का नवजात शिशु आयुष जन्म जात विकृति से ग्रसित था।बच्चे के सर के पीछे भी एक अजीबोगरीब एक और सर जुड़ा था ।उसके परिजन इलाज के लिए लखनऊ ले गए तो डॉक्टरों ने बताया कि इस विकृति को न्यूरल टियूब डिफेक्ट कहते है जिसका इलाज सर्जरी से ही संभव है।

न्यूरल टियूब डिफेक्ट से जन्म जात पीड़ित शिशु को डॉक्टरों ने धरती के भगवान बनकर पेश की मिशाल दिया नया जीवन

पीड़ित परिजनों की आर्थिक स्थित ठीक न होने से वे लोग निराश होकर उस नवजात शिशु को लेकर स्थानीय सीएचसी जरवल मुस्तफाबाद लेकर गए बच्चे को जब सीएचसी अधिक्षक डॉ निखिल सिंह वर्मा ने देखा तो उन्होंने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ कार्यक्रम के आरएलबी की बी टीम को इसके लिए लगाया जिसमे टीम के डॉक्टर अनिल कुमार वर्मा,डॉक्टर पूनम सिंह,तथा नेत्र सहायक साकिब अहमद,एएनएम ममता ने निःशुल्क सर्जरी का बीड़ा उठाया और बच्चे की सर्जरी के लिए इटावा के सैफई मेडिकल कालेज मे लेजाकर एडमिट करवाकर विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने ऑपरेशन किया जो पूरी तरह सफल रहा।

और धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टरों ने उस गरीब परिवार के नवजात शिशु को नया जीवन दान दिया।

News Reporter

Leave a Reply