मांगें न पूरी होने पर व्यापारियों ने सरयू के जल में खड़े होकर किया जल सत्याग्रह

बिस्मिल्लाह खान रामनगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के साथ प्रदेश सरकार द्वारा सज रही संवर रही योजना में अयोध्या को विकसित करने की योजना पर कार्य कर रही है। जिसके तहत अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट, मॉडल रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन सहित कई योजनाएं शुरू चुकी है।

वहीं अयोध्या में बढ़ते श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए सभी मार्गों के चौड़ीकरण करने की भी योजना बनाई है लेकिन इस कार्य से सैकड़ों व्यापारियों की दुकान इस योजना के जद में आ रही। इसी को लेकर व्यापारी वर्ग लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहा है.आज भी विरोध व्यपारियों में जल सत्याग्रह कर विरोध दर्ज कराया है।

सहादतगंज गंज से नया घाट तक बनने वाली फोरलेन सड़क में करीब अट्ठारह सौ व्यापारियों की दुकाने आ रही है। जिन्हें सरकार विस्थापित करने के लिए योजना बना रही है। इसी के विरोध में व्यापारियों ने पहले ज्ञापन दिया, उपवास और पूजा-पाठ किया।मांगें न पूरी होने पर व्यापारियों ने सरयू के जल में खड़े होकर जल सत्याग्रह, सत्यग्रह कर प्रदर्शन किया। इस दौरान स्थानीय प्रशासन द्वारा रोकने की भी कोशिश की गई।

विरोध कर रहे व्यापारियों की माने तो फोरलेन बनने से 18 सौ व्यापारी विस्थापित हो रहे है और व्यापारियों का विरोध अयोध्या के विकास से नहीं है, उनकी मांग है कि सरकार उनसे वार्ता करें और कोई बीच का रास्ता निकालें। वहीं जल सत्याग्रह प्रदर्शन में सपा के पूर्व मंत्री पवन पांडेय भी शामिल हुए।

Leave a Reply