1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
1win.com.ve 1wins.pl 1winz.com.ci aviators.cl lucky-jets.co tgasu.ru
यूपी चुनावः आम आदमी पार्टी की तिरंगा यात्रा को पुलिस ने बताया अवैध

यूपी चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। इस बीच आम आदमी पार्टी ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। दरअसल आप सांसद संजय सिंह की तिरंगा यात्रा 21अक्टूबर को प्रस्तावित थी, लेकिन यूपी पुलिस ने इसे अवैध बताया है।

इसके बाद संजय सिंह ने ट्वीट कर  के कहा है कि उत्तर प्रदेश में अंग्रेजों का शासन चल रहा है। इस पत्र की भाषा देखिए, सीएम योगी के प्रशासन ने तिरंगा यात्रा को अवैध घोषित कर दिया है।  सीएम योगी के राज में हत्या करना अपराध नहीं है, बल्कि तिरंगा यात्रा निकालना अपराध है।

इस मुद्दे पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने  अपनी टिपणी  देते हुए कहा है कि अपने ही देश में तिरंगा यात्रा निकालना गुनाह कैसे हो सकता है? तिरंगा फहराने वाले की गिरफ्तारी क्यों? ये कैसा कानून है?

वहीं इस मुद्दे पर यूपी पुलिस ने पत्र के जरिए कहा है कि तिरंगा संकल्प यात्रा बिना प्रशासन की अनुमति के 21 अक्टूबर को प्रस्तावित की गई है, जिस  वजह से प्रशासन ने इसे अवैध घोषित किया है। इस कार्यक्रम में शामिल होने पर विधिक कार्यवाही की जाएगी।

हालांकि फिर भी राज्यसभा सांसद संजय सिंह वाराणसी में तिरंगा यात्रा निकालने के लिए पहुंचे, जिसके बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया। संजय सिंह वाराणसी में AAP के द्वारा निकाली जा रही तिरंगा संकल्प यात्रा का नेतृत्व करने के लिए गए थे।

बता दें कि बीते 18 दिनों में ये दूसरा मौका है, जब यूपी पुलिस ने उनको हिरासत में लिया है। इससे पहले लखीमपुर जाते समय भी उन्हें हिरासत में लिया गया था।

 बताते चलें वाराणसी में तिरंगा यात्रा निकलने की जिद्द पर अड़े संजय सिंह को जब हिरासत में लिया गया, तो वह पुलिसकर्मियों पर नाराज होते दिखाई दिए। वह उस आदेश की कॉपी मांग रहे थे, जिसके तहत उन्हें हिरासत में लिया गया है।

इस यात्रा को जिला प्रशासन से अनुमति नहीं मिली थी, फिर भी संजय सिंह अपनी पार्टी के सदस्यों और कार्यकर्ताओं के साथ तिरंगा संकल्प यात्रा निकालने की तैयारी में जुटे थे। इस मामले के सामने आने के बाद आप कार्यकर्ताओं के बीच आक्रोश है।

वहीं हिरासत में लिए जाने के बाद आप सांसद ने राज्यसभा के सभापति से अपील की है और ट्वीट करके कहा है, ‘माननीय सभापति जी मुझे गैरकानूनी ढंग से वाराणसी शिवपुर में भारी पुलिस बल के साथ रोका गया है, मेरे साथ कोई भी घटना घटित हो सकती है, कृपया तत्काल हस्तक्षेप करें।’

News Reporter
पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बनाने वाली निकिता सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से ताल्लुक रखती हैं पिछले कुछ सालों से परिवार के साथ रांची में रह रहीं हैं और अब देश की राजधानी दिल्ली में अपनी सेवा दे रहीं हैं। नेशनल ब्रॉडकास्टिंग अकादमी से पत्रकारिता में स्नातक करने के बाद निकिता ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के न्यूज़ पोर्टल्स में काम किया। उन्होंने अपने कैरियर में रिपोर्टिंग से लेकर एंकरिंग के साथ-साथ वॉइस ओवर में भी तजुर्बा हासिल किया। वर्त्तमान में नमामि भारत वेब चैनल में कार्यरत हैं। बदलती देश कि राजनीती, प्रशासन और अर्थव्यवस्था में निकिता की विशेष रुचि रही है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही आम जन मानस को प्रभावित करने वाली खबरों पर पैनी नज़र रखती आ रही हैं। बेबाकी से लिखने के साथ-साथ खाने पीने का अच्छा शौक है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ में योगदान जारी है।
error: Content is protected !!