पशुओं में बांझपन प्रबंधन पर एक दिवसीय प्रशिक्षण का हुआ आयोजन

पवन पांडेय/गोरखपुर। दिनांक 10-01-2020 को महायोगी गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र चौक माफी पीपीगंज पर पशुपालन विभाग के सेवारत कर्मियों ( पशुधन प्रसार अधिकारियों) के लिए पशुओं में बांझपन प्रबंधन विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया प्रशिक्षण में केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष द्वारा कृषि से संबंधित नई-नई तकनीकों के बारे में विस्तार से बताया गया जिसको अपना कर कृषक अपने आय को बढ़ा सकते हैं। पशुपालन विशेषज्ञ डॉ विवेक प्रताप सिंह द्वारा पशुओं में बांझपन और उसके कारण का विस्तारपूर्वक चर्चा किया गया पशुओं को संतुलित आहार हरा चारा प्रबंधन खनिज लवण आदि की उपयोगिता के बारे में प्रसार कर्मियों को विस्तारपूर्वक बताया गया, डॉक्टर सिंह द्वारा बताया गया कि पशुपालक अपने पशुओं को देने वाले आहार में किसी एक ही दाने का समावेश ना करके एक से अधिक दानों का समावेश करें जैसे गेहूं का चोकर, अरहर का चूनी, खली मक्का आदि का प्रयोग करें । मृदा विशेषज्ञ डॉक्टर संदीप उपाध्याय द्वारा हरा चारा उत्पादन हेतु किसानों को मृदा जांच कराने के उपरांत ही संतुलित उर्वरकों का प्रयोग करना चाहिए जिससे चारे में खनिज लवणों की मात्रा पर्याप्त मिल सके। सब्जी विशेषज्ञ डॉ अजीत श्रीवास्तव द्वारा सब्जी एवं बागवानी फसलों द्वारा कृषक आए संवर्धन हेतु उपाय बताए गए। कार्यक्रम के दौरान डॉ राहुल सिंह विशेषज्ञ कृषि प्रसार, डॉ अवनीश सिंह विशेषज्ञ सस्य विज्ञान ने कृषि से जुड़ी समसामयिक बातों को बताया।

Leave a Reply