खनन वाले क्षेत्रों में रह रहे प्रभावित लोगों को हर सुविधाएं होंगी मुहैया-जिलाधिकारी
135
सन्तोषसिंह नेगी /चमोली  जिले में खनन प्रभावित क्षेत्रों में पर्यावरण, स्वास्थ्य और सामाजिक आर्थिक व्यवस्था पर पडने वाले प्रतिकूल प्रभाव को कम करने तथा इन क्षेत्रों में विभिन्न विकास योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने जिला खनिज फाउण्डेशन न्यास की बैठक लेते हुए ठोस कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश सभी संबधित अधिकारियों को दिये। कहा कि खनन से प्राप्त रायल्टी से ऐसे विकास योजनाओं के लिए धनराशि आवंटित की जायेगी।
जिलाधिकारी ने कहा कि खनन वाले क्षेत्रों में रह रहे प्रभावित लोगों को हर सम्भवं सुविधाएं मुहैया की जानी है। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य, बाल विकास, पेयजल, लोनिवि, सिंचाई आदि विभागों को ऐसे प्रभावित क्षेत्रों में छोटी-छोटी व अतिआवश्यक विकास कार्यो का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। कहा कि खनन से प्राप्त होने वाले रायल्टी निधि से खनन प्रभावित क्षेत्रों में विकास कार्यो के लिए धनराशि दी जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में विकास कार्यो की लिए ग्राम प्रधानों से भी प्रस्ताव लिये जाय, ताकि वहाॅ की वास्तविक आवश्यकता के अनुसार कार्ययोजना तैयार की जा सके। उन्होंने कहा कि खनन रायल्टी में मिलने वाली 60 प्रतिशत धनराशि स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला कल्याण, पेजयल, पर्यावरण व प्रदूषण नियन्त्रण आदि कार्यो में तथा 40 प्रतिशत धनराशि से सड़क, पुल, जलमार्ग आदि अवसंरचना विकास संबधी कार्यो पर व्यय किया जायेगा। उन्होंने सभी संबधित विभागों को खनन प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे कर विकास योजनाओं के प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिये है।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हसांदत्त पांडे, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 तृप्ति बहुगुणा, जिला शिक्षा अधिकारी आशुतोष भण्डारी, ईई लोनिवि डीएस रावत, ईई जल संस्थान प्रवीन कुमार सैनी सहित सभी संबधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply