1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
1win.com.ve 1wins.pl 1winz.com.ci aviators.cl lucky-jets.co tgasu.ru
Sacred games के डायरेक्टर ने राहुल गांधी को दिया करारा जवाब

तृप्ति रावत/ आए दिन नेटफ्लिक्स पर प्रसारित शो ‘सेक्रेड गेम्स’ कई वजहों से सुर्खियों में हैं। इस सीरीज के लीड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने कुछ दिनों पहले केस दर्ज किया था। शिकायत में कहा गया था कि नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया है।

वहीं, राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए हाल ही में अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की थी। उन्होंने लिखा, “RSS और BJP को लगता है कि अभिव्यक्ति की आजादी पर लगाम लगनी चाहिए और इसे नियंत्रित किया जाना चाहिए। मुझे लगता है कि यह आजादी हमारा फंडामेंटल राइट है। मेरे पिता देश की सेवा के लिए जिए और मरे, एक काल्पनिक वेब सीरीज के किरदार इसे बदल नहीं सकते।

राहुल के इस ट्वीट को डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने कोट रीट्वीट किया और लिखा, ‘thats a yay…”  अनुराग के बाद एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने भी राहुल गांधी के ट्वीट को रीट्वीट किया और लिखा, “ये वाकई सराहनीय बात है कि राहुल गांधी जैसे मुख्य धारा के राजनेता इतना साफ बोल रहे हैं और अभिव्यक्ति की आजादी व सेंसरशिप पर इतनी प्रगतिशील बातें कर रहे है।

बता दें कि नेटफ्ल‍िक्स की वेब सीरीज सैक्रेड गेम्स में एक एपिसोड में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। पश्‍च‍िम बंगाल के एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने सैक्रेड गेम्‍स के उस एपिसोड पर आपत्त‍ि जताई थी, जिसमें राजीव गांधी को नवाजुद्दीन के किरदार द्वारा ‘फट्टू’ बताया गया है। इसको अंग्रेजी सबटाइटल में आपत्‍त‍िजनक शब्‍द से अनुवादित किया गया है।

37 साल के कांग्रेस कार्यकर्ता राजीव सिन्‍हा ने पुलिस में इसकी शिकायत कर नवाजुद्दीन सिद्दीकी और निर्माताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने की मांग की थी। दूसरी ओर दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। जिसमें सैक्रेड गेम्‍स के कुछ सीन को आपत्तिजनक बताया गया है।

सैक्रेड गेम्स में नवाज का हिस्सा निर्देशित करने वाले अनुराग ने कहा था, ”ये वेब सीरीज किसी राजनेता को टारगेट करने के लिए नहीं बनाई गई है। ये सिर्फ हमारा नजरिया है जो उन दिनों हुए घटनाक्रम को दर्शाता है, चाहे वो पॉलिटिकल हो या धार्मिक। अगर किसी को इससे आपत्ति है तो ये उनकी दिक्कत है।”

 

News Reporter
error: Content is protected !!