प्रधानमंत्री ने वाराणसी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से जानों के नुकसान पर दुख व्यक्त किया
161

निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हुए जानों के नुकसान पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने कहा ‘वाराणसी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से हुए जानों के नुकसान पर बेहद दुखी हूं। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल व्यक्ति जल्द स्वस्थ हो जाएं। मैंने अधिकारियों से बात की और उन्हें प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता सुनिश्चित करने को कहा।

पीएम मोदी ने कहा कि मैंने वाराणसी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से उत्पन्न स्थिति को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ से बात की। उत्तर प्रदेश सरकार स्थिति पर बहुत करीबी निगरानी रख रही है तथा प्रभावितों की सहायता करने के लिए कार्य कर रही है।फ्लाईओवर का जो हिस्सा गिरा है, उसे तीन महीने पहले ही बनाया गया था।

गौरतलब है कि वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन के पास मंगलवार को एक निर्माणाधीन ओवरब्रिज का एक हिस्सा नीचे गिर जाने से मलबे में दबकर कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई।एक अधिकारी ने बताया कि मलबे के भीतर और भी लोगों के दबे होने की आशंका है। मलबे के भीतर फंसे हुए लोगों को बचाने के लिए बचाव दल घटनास्थल पर मौजूद है।उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि वाराणसी फ्लाईओवर के घटनास्थल से 18 शव बरामद हुए हैं।

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के एक अधिकारी ने बताया कि एक बस सहित कुछ वाहन इस दुर्घटना में दब गए हैं. कम से कम तीन लोगों को सुरक्षित बचाया गया. अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश पुल निर्माण निगम इस 2261 मीटर लंबे फ्लाईओवर का निर्माण 129 करोड़ की लागत से कर रहा था।