भेल संयुक्त संघर्ष समिति झांसी के द्वारा राष्ट्रपति महोदय को भेजा ज्ञापन

ज्ञापन में कहागया की विनिवेशीकरण के खिलाफ एवं बढ़ती हुई महंगाई के विरोध में ज्ञापन सौंपा गया जिसमें यूनियन द्वारा मांग की गई की किसान विरोधी तीनों कृषि कानून किसान हित में नहीं हैवापिस लिए जाने की मांग। आंदोलन कर रहे किसानों मजदूरों छात्रों नौजवानों का उत्पीड़न बंद किया जाए। उनके ऊपर लगाए गए फर्जी मुकदमे वापस लिए जाएं ।

किसानों की फसल का उत्पादन समर्थन मूल्य एमएसपी दिलाए जाने की गारंटी दी जाए। दिनोंदिन बढ़ रही महंगाई चरम सीमा पर पहुंच रही है,डीजल पेट्रोल रसोई गैस के दाम कम किए जाएं। पी यू एस (बीएचएल) का विनिवेशीकरण रोके जाने की मांग रखी।

भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड से इंटक महामंत्री कृष्णासिंह ,ख्यालीराम,ज़िला कांग्रेस कमेटी के सचिव गिरजाशंकर राय ख्यालीराम, अवदेश कुमार गुप्ता अध्यक्ष, व अनार सिंह महामन्त्री, एच एम एस के ,विजय वी के यू गुप्ता , एटक महामन्त्री सगीर अहमद, डव्लू टी यू उमेश प्रजापति, विकास गुप्ता, ,नीलेश लोधी, वाईएस राठौर एचएमएस महामंत्री सीटू के मुकेश खरे,जी पी सिंह ,चंद्रपाल शर्मा,संजय शर्मा ,जगमोहन पाल ,देवेंद्र कुशवाहा ,अनूप राजपूत,नेत्रपाल सिंह ,दीपक सैनी, न्याय अधिकार चौपाल के अध्यक्ष बीएल भास्कर ,साकेत सेन ब्लॉक अध्यक्ष , अनिल कुमार शर्मा , चन्द्रभान आदिम संतोष राज वर्मा बी,के वर्मा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply