मत्स्य विभाग की जिला स्तरीय कमेटी की बैठक, रंगीन मछलियों के व्यापार में बढावा

विवेक राजपूत झाँसी। झाँसी जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 की कार्ययोजना मत्स्य विभाग की जिला स्तरीय कमेटी की बैठक विकास भवन सभागार में आयोजित की गई।कार्ययोजना का संचालन श्री ज्ञानेन्द्र सिंह, उप निदेशक मत्स्य ने किया। जिसमें जनपद झांसी के लिये 01 मत्स्य हैचरी, 16 निजी तालाब निर्माण, 01लघु आर0ए0एस0, 03 जिन्दा मछली विक्रय केन्द्र, 13 मोटर साईकिल विद आईसबाक्स, 06 थ्रीव्हीलर विद आईसबाक्स, 03 बायोफलोक निर्माण, 01 लघु मत्स्य आहार मिल, 05 वृहद बायोफलोक टैंक (50 टैंक क्षमता वाले) एवं 01 मध्याकार बायोफलोक (25 टैंक क्षमता वाले) की कार्ययोजना समिति द्वारा अनुमोदित की गई।


साथ ही शशांक भटटाचार्य द्वारा आफलाईन रंगीन मछलियों के आवेदन पर समिति द्वारा मूल्यांकन उपरांत स्वीकृति हेतु संस्तुति की जायेगी, जिससे जनपद में वृहद रूप से रंगीन मछलियों का उत्पादन एवं विक्रय किया जा सके। जो कि बुन्देलखण्ड की प्रथम इकाई होगी। बुदेलखण्ड में रंगीन मछलियों के व्यापार में बढावा मिलेगा। कुल मछली पालन योजनाओं की धनराषि रू0 54356200/-(रू0 पांच करोड तितालिस लाख छप्पन हजार दौ सौ) की कार्ययोजना अनुमोदित की गई।

जिससे आने वाले समय में मत्स्य पालन की गतिविधियों को अध्याधिक बढावा मिलेगा एवं किसानों की आय दुगुनी करने में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना अध्याधिक कारगर सिद्व होगी। जिलाधिकारी ने एल0डी0एम को निर्देशित किया कि जितने भी मत्स्य पालन संबंधी आवेदन लम्बित है, उनके तत्काल के0सी0सी0 निर्गत किये जाये।


जिसमें मुख्य विकास अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता, बेतवा प्रखण्ड, सिचाई विभाग, जिला कृषि अधिकारी, परियोजना निदेशक, प्रभारी कृषि विज्ञान केन्द्र, प्रबन्धक जिला अग्रणी बैक, उप निदेशक मत्स्य, जनपदीय मत्स्य अधिकारी एवं प्रगतिशील मत्स्य पालक,झांसी उपस्थित रहे।

Leave a Reply