बुंदेलखंड में खाद्य प्रसंस्करण एवं उद्योग को बढ़ावा देने हेतु 27-28 फरवरी को होगा सेमिनार

विवेक राजपूत झाँसी। झाँसी पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने हेतु जल्द होगा एडवेंचर स्पोर्ट्स का आयोजन निवेश मित्र योजना में शिकायत निस्तारण के लिए विद्युत विभाग प्रशंसा योग्य
शिशिक्षु अधिनियम 1961 के अंतर्गत सरकारी विभाग भी प्रशिक्षित शिशिक्षुओ की विभाग में सेवाएं ले, तत्काल विभागों को पत्र लिखने के निर्देश
राष्ट्रीय पेंशन योजना (ट्रेडर्स) की प्रगति संतोषजनक लगातार कैंप आयोजित कराए जाने के निर्देश

जिलाधिकारी श्री आन्द्रा वामसी ने विकास भवन सभागार में जिला स्तरीय समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि बुंदेलखंड में खाद्य प्रसंस्करण एवं औधोगिकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दिनांक 27-28 फरवरी 2021को दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। क्षेत्र के व्यापारी, उद्यमी इसमें प्रतिभाग करें। कार्यशाला में प्रदेश शासन से अपर मुख्य सचिव सहित अनेक विशेषज्ञ शामिल होंगे।
जिला स्तरीय उद्योग बन्धु समिति बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न योजनाओं की प्रगति संतोषजनक है परंतु केवीआईसी की प्रगति में सुधार लाया जाना अपेक्षित है।उन्होंने उपायुक्त उद्योग को निर्देश दिए कि जिन बैंको द्वारा सहयोग न किया जाए उनके संबंध में एसएलबीसी को पत्र प्रेषित किया जाए। उन्होंने जिला समन्वयको को कड़े निर्देश दिए कि किसी भी दशा में बैंकर्स द्वारा ग्राहकों से अभद्रता न की जाए। पीएमईजीपी योजना अंतर्गत 142.34 स्वीकृति तथा 82.38% वितरण की कार्रवाई की जा चुकी है। इसके साथ ही खादी ग्रामोद्योग बोर्ड अंतर्गत लक्ष्य के सापेक्ष 108.49 स्वीकृति तथा 90.25 वितरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा इसी प्रकार अन्य योजनाओं की प्रगति भी बढ़ायी जाए।बैठक में एक जनपद एक उत्पाद वित्तीय सहायता योजना की समीक्षा में जिलाधिकारी ने संतोष व्यक्त किया। उपायुक्त उद्योग ने बताया कि योजना का भौतिक लक्ष्य 50 एवं वित्तीय लक्ष्यों रू 125 लाख है। योजना अंतर्गत 366 आवेदन पत्र विभिन्न बैंक शाखाओं को प्रेषित किए जा चुके हैं, जिसके सापेक्ष 123 आवेदन पत्रों पर स्वीकृत धनराशि रु 290.5 लाख (मार्जिन मनी 60.12) तथा 20 आवेदन पत्रों (मार्जिन मनी 18.50 लाख) में वितरण की कार्यवाही की जा चुकी है। उपायुक्त उद्योग ने बैंकर्स से अनुरोध किया है कि योजना अंतर्गत एससी/एसटी महिलाओं को प्राथमिकता दें उन्हें मोटिवेट करें कि ताकि वह आगे आकर योजना का लाभ ले सके।
बैठक में निवेश मित्र योजना की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के कार्यों की प्रशंसा की, उन्होंने उद्यमियों की 27 विभागों से स्वीकृति /लाइसेंस/अनापत्तियों से संबंधित 160 के ऊपर अधिक सेवाओं की त्वरित निस्तारण पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि विभाग 15 दिवस में आगे भी उद्यमियों के योजना अंतर्गत कार्य करना सुनिश्चित करें।
बैठक में शिशक्षु अधिनियम 1961 के अंतर्गत 14 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी युवा, शिक्षुता प्रशिक्षण योजना के युवाओं को सरकारी विभागों में भी सेवाओं हेतु लगाया जाए, यदि ऐसे शासकीय विभाग जिन्होंने पंजीकरण कराए जाने के बाद भी युवाओं में नहीं लिया है, उन्हें पत्र लिखें ताकि वह ऐसे युवाओं को सेवा में लें।


जिला स्तरीय उद्योग बंधु समिति की बैठक में उपस्थित व्यापारियों व उद्यमियों ने कोविड-19 में प्रभावशाली ढंग से कार्य करने पर जिलाधिकारी के नेतृत्व की प्रशंसा की और शुभकामनाएं दी। बैठक में व्यापारियों द्वारा बाजार में नगर निगम द्वारा अतिक्रमण हटाए जाने के अभियान पर सहयोग करने का आश्वासन देते हुए कहा कि अभियान एक बार ही चलाया जाए ताकि व्यापारियों को समस्या ना हो।


इस मौके पर एसपी सिटी श्री विवेक कुमार त्रिपाठी, उपायुक्त उद्योग सुधीर कुमार श्रीवास्तव, व्यापारी नेता श्री मनमोहन गेडा़, श्री राजेंद्र अग्रवाल, अतुल जैन सहित अन्य व्यापारी उद्यमी और विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply