शिवसेना से आगे निकली भाजपा, महाराष्ट्र पंचायत में बड़ा उलटफेर

महाराष्ट्र में ग्राम पंचायत चुनावों के वोटों की गिनती सोमवार यानी आज शुरू हो गई है, जिसके परिणाम शाम तक आने की उम्मीद है। शुरुआती रुझानों के अनुसार, सत्तारूढ़ शिवसेना आगे चल रही है वहीं भाजपा भी बराबर टक्कर में नजर आ रही है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस प्रमुख स्थान पर हैं। महाराष्ट्र के 34 जिलों में 12,711 ग्राम पंचायतों के चुनाव के लिए शुक्रवार को वोटिंग हुई थी। 15 जनवरी को लगभग आधे या 12,711 ग्राम पंचायत के चुनाव हुए, जबकि गढ़चिरौली की 162 पंचायतों में 20 जनवरी को मतदान होंगे। आयोग ने कहा है नक्सल प्रभावित जिला गढ़चिरौली की छह तालुकाओं की 162 ग्राम पंचायतों में मतदान 20 जनवरी को होगा।

शिवसेना के सिंधुदुर्ग में 70 में से 43 पंचायतों में भाजपा आगे -बीजेपी ने सिंधुदुर्ग जिलों की 70 पंचायतों में से 43 सीटों पर जीत हासिल की, जिसे शिवसेना का गढ़ माना जाता है।

एनसीपी नेता खडसे के कोथली गांव में 11 में से 6 पंचायतों में भाजपा ने जीत दर्ज की -भाजपा ने एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के पैतृक गांव कोथली में 11 में से 6 पंचायतों में जीत हासिल की, इन्होंने कुछ महीने पहले भाजपा को हराया था।

बीजेपी 646 पंचायतों से आगे, शिवसेना 435 पर है -646 सीटों के साथ भाजपा टॉप पर पहुंच गई है औरशिवसेना 435 पर है, कांग्रेस 331 पर. अब तक 2373 पंचायतों के परिणाम आ चुके हैं।

मतदाताओं ने एमवीए सरकार में दिखाया विश्वास- आदित्य ठाकरे – राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र के मतदाताओं ने एमवीए सरकार में अपने विश्वास की पुष्टि की है। “सत्तारूढ़ गठबंधन राज्य में पंचायतों में भी बहुमत हासिल करेगा।”

नागपुर में 20 पंचायतों के साथ कांग्रेस का नेतृत्व होता है, उसके बाद 15 के साथ भाजपा -नागपुर जिले में अब तक 49 पंचायतों में से 20 पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है, भाजपा ने 15 सीटे जीती हैं। नागपुर में 129 ग्राम पंचायतें हैं।

एनसीपी ने पराली में 7 में से 6 पंचायतों को जीता -बीड जिले के परली में एनसीपी ने सात में से छह पंचायतों को जीता। परली का प्रतिनिधित्व राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे करते हैं।

शिवसेना और भाजपा में बराबर की टक्कर  -अब तक 1900 पंचायतों के नतीजे आ चुके हैं। शिवसेना और भाजपा दोनों ही 390 सीटों पर एक-दूसरे को कांटे की टक्कर दे रही हैं।

शिवसेना 336 पंचायतों में आगे, भाजपा 266 से अधिक के साथ पीछे -सत्तारूढ़ पार्टी शिवसेना 336 सीटों पर आगे चल रही है। वहीं 266 सीटो के साथ भाजपा दूसरे नंबर पर है। एनसीपी 220 सीटो की बढ़त के साथ तीसरे नंबर पर है और जबकि कांग्रेस 145 से अधिक पंचायतों के साथ चौथे स्थान पर है।

Leave a Reply