जम्मू-कश्मीर में सेना को मिली बड़ी कामयाबी मुठभेड़ में लश्कर कमांडर शकूर ढेर
161

ज़ेबा ख़ान/ रमज़ान सीजफार खत्म होने के बाद से सेना को सरकार कि तरफ से अनुमति मिलने के बाद से बीजेपी-पीडीपी गठबंधन की सरकार गिरने के बाद प्रदेश में राज्यपाल शासन लागू हो गया है।जम्मू-कश्मीर में लगातार एन्काउंटर चल रहे है । इसी मुहिम के चलते बीते रविवार को दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को मार गिराया है।  एक आतंकी ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। पुलिस ने बताया कि मारे गए आतंकियों में लश्कर ए तैय्यबा का डिविजनल कमांडर शकूर अहमद डार भी शामिल है।

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की तरफ से ऑपरेशन ऑल आउट चलाया जा रहा है। इसके तहत सुरक्षा बलों ने अभी 21 आतंकियों की हिट लिस्ट जारी की थी। इस हिट लिस्ट में शकूर अहमद डार का नाम भी शामिल है।  सेना का मकसद कश्मीर में आतंकी गतिविधियों का नेतृत्व कर रहे आतंकियों को मार गिराना है।

हाल ही में सेना ने लश्कर-ए-तैय्यबा, जैश-ए-मोहम्मद, अंसार गजवातुल हिंद और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों की हिटलिस्ट जारी की है। इस लिस्ट को विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने मिलकर तैयार किया है। इसमें हिजबुल मुजाहिदीन के 11, लश्कर के 7, जैश के 2 आतंकियों को शामिल किया है। अधिकारियों ने बताया कि कुलगाम के तेंगपुरा का रहने वाला डार ए+ कैटेगिरी का आतंकी है। वह सितंबर 2016 में लश्कर में शामिल हुआ था। इन आतंकियों को तीन श्रेणियों में रखा गया है।  A++ कैटेगिरी आतंकी का मतलब है कि वह हिट लिस्ट में सबसे ऊपर है।

पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि रविवार सुबह कुलगाम के काजीगुंद इलाके के नौबग कुंड गांव में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद जवानों ने सर्च अभियान चलाया था। इस दौरान आतंकियों ने जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। डार के मारे जाने के बाद लश्कर के एक आतंकी ने सुरक्षा बल से सामने सरेंडर कर दिया है।

 

Leave a Reply