सीतापुर की पुलिस सोती रही, चोरों ने फौजी के घर लाखों का माल किया साफ
294

सीतापुर/सीतापुर जनपद में थाना रामकोट के मोहल्ला सत्यम् नगर नवीन चौक क्षेत्र में चोरों का आतंक जारी है फौजी की पत्नी गर्मी से राहत पाने के लिए आधा घण्टे के लिए छत पर गयी की उसी समय चोरों ने घर में रखा माल साफ कर दिया ।जानकारी के अनुसार नासिक में तैनात सैनिक अवनीश कुमार की पत्नी सीमा मोहल्ला सत्यम नगर नवीन चौक पुलिस चौकी के से महज 500 मीटर की दूरी पर बच्चों के साथ रह रही है। शनिवार की रात 12:00 बजे के लगभग गर्मी से राहत पाने के लिए अपने बच्चों को छत पर सुलाने चली गई और आधे घंटे के पश्चात लाइट आने पर गृहणी सीमा अपने दोनों बच्चों के साथ नीचे आयी तो घर की हालात देखकर हालात खराब होने लगे बदहवास स्थिति में उसने अपने ग्राम गुड़ा में ससुर को खबर दी चोरों ने उसके घर में रखे लाखों के माल पर हाथ साफ कर दिया है सूचना पाकर सुबह-सुबह परिवारजनों के आने पश्चात पुलिस को सूचना दी गयी।

महज औपचारिकता निभा गई पुलिस

फौजी की पत्नी सीमा ने बताया कि पुलिस आयी और टूटा बक्सा बिखरा सामान खुली अलमारी देख कर तफ्तीश की बात करके चले गए कि पुलिस वाले आपस में कह रहे थे कि क्षेत्र में चोरी-चकारी नहीं होती थी पहला वाक्य है सीमा ने बताया ।

भयभीत है मोहल्लावासी

महज आधे घंटे के लिए छत पर बच्चों के साथ गयी गृहस्वामिनी अपने बच्चों को सुला रही थी उसी समय मौका पाकर चोरों ने बाउंड्री वॉल फांदकर कमरे में रखे बक्से को खोलकर 6 जोड़ी सोने की बाली ,१ मंगलसूत्र सेट झाले सहित सोने का ,3 सोने की चेन ,4 जोड़ी पायल , एक जोड़ी सोने के कंगन (खडूआ),२ लॉकेट सोने के 20 जोड़ी बिछिया,पांच अंगूठी सोने की ₹20000 नकद पर हाथ साफ कर दिया ।

क्यों नहीं ले गये बिजली के उपकरण

बिजली के उपकरण लैपटॉप स्मार्टफोन एवं अन्य कीमती सामानों को चोरों ने हाथ तक नहीं लगाया इससे पता चलता है कि चोर पेशेवर टप्पेबाज हैं ।

पुलिस का दावा है गलत

मोहल्ला सत्यम नगर निवासी अनुप्रास ने बताया कि चुनाव जीतने के बाद विधायक राकेश राठौर ने अपनी निधि से कॉलोनी में विधुतीकरण का कार्य कराया उससे पहले यहां से सोनल पैनल की चोरी होना आम बात थी  ।

क्या कहते है मोहल्लावासी

मोहल्लावासी अनुभव मिश्रा ने बताया कि लाइट लगने के बाद रहने वालों को आराम मिल रही है उन्होंने बताया कि मैं बता सकता हूं कि विधानसभा चुनाव के बाद कॉलोनी में पांच चोरी हो चुकी हैं

घट सकती थी बड़ी वारदात

चोर चोरी की नियत से घर में घुसा गृहस्वामिनी के न होने से उसने और बड़े आराम से चोरी तो कर ली किंतु यदि गृ्हस्वामिनी छत से नीचे उसी समय आ जाती तो जिस समय चोर चोरी कर रहा था तो क्या कोई बड़ी वारदात नहीं हो सकती थी पुलिस की निष्क्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि गश्त के दौरान रात्रि में एक भी पुलिसकर्मी मोहल्ले का रुख नहीं करता है।

नहीं सुरक्षित है फौजियों के परिवार

देश की सुरक्षा के लिए सेना के जवान अपनी जान की बाजी लगाने से ही पीछे नहीं हटते वही देश के भीतर उनके परिवार की सुरक्षा को लेकर व्यवस्था उदासीन है इसका ताजा उदाहरण सीतापुर में शनिवार की रात्रि फौजी अवनीश के घर में होने वाली लाखों रुपए की चोरी है ।

पुलिस चौकी से मात्र चंद कदमों की दूरी पर स्थित घर से चोरों ने गत रात्रि 3:30 लाख के जेवर व 20000 की नकदी पर हाथ साफ कर दिया गौरतलब बात यह है कि चोरी के समय गृहस्वामिनी छत पर अपने बच्चों को सुला रही थी ।

News Reporter

Leave a Reply