कैराना में राम की हार और अल्लाह की जीत के बाद अब आतंकवादी दलितों को भगाओ

रवि उपाध्याय/हाल ही में सम्पन्न हुए कैराना लोकसभा उपचुनाव में सोशल मीडिया पर चल रहा आपत्तिजनक टिप्पणियों का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है।अब भाजपा पार्टी की प्रत्याशी मृगांका सिहं के बारे में सोशल मीडिया पर एक आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की जा रही है जिसके चलते भाजपा पार्टी के कार्यकर्ताओं में भारी रोष व्याप्त है।कार्यकर्ताओं की शिकायत के बाद शामली पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने मामले पर संज्ञान लेते हुए कैराना कोतवाली पुलिस को इस मामले पर रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दे दिए है।

कैराना उपचुनाव के परिणाम आने के बाद सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्टों की एक बाढ़ सी आ गयी थी।कैराना की नवनिर्वाचित सांसद तबस्सुम हसन के जीतने पर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जोरों शोरो से शेयर की जा रही थी जिसमें लिखा था कि यह राम की हार है और अल्लाह की जीत है।इस पोस्ट के खिलाफ रालोद सांसद तबस्सुम हसन के करीबी मनोज राणा ने शामली एसपी से मिलकर लिखित में शिकायत दर्ज करायी थी।

अब तबस्सुम के बाद चुनाव में भाजपा की प्रत्याशी रही मृगांका सिंह के नाम से सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की जा रही है जिसमें लिखा है कि असली आतंकवादी तो ये दलित है इनको देश से बाहर फेंकना चाहिए।

जिला पंचायत सदस्य अनुज चौहान ने शामली एसपी देवरंजन वर्मा को एक पत्र देते हुए बताया कि मेरी बुआ जी यानि भाजपा पार्टी की नेत्री मृगांका सिंह की कुछ असमाजिक तत्व राजनीतिक और सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल करने का प्रयास कर रहे है।जिला पंचायत सदस्य ने एसपी को पत्र देते हुए बताया कि आलमगिरपुर नामक व्यक्ति ने मोबाइल नंबर 8218637307 से चौ. तबस्सुम हसन एमपी नामक व्हाट्सएप्प ग्रुप में जिसका एडमिन मुनव्वर मुनीम नामक व्यक्ति है और अनू सिंह राणा नामक फेसबुक एकांउट द्वारा 4 जून को मृगांका सिंह और स्वर्गीय बाबू जी के प्रति आपत्तिजनक पोस्टों को भिन्न भिन्न लोगों के पास शेयर किया जा रहा है।

मृगांका सिंह के भतीजे ने बताया कि मेरी बुआ जी ने इस तरह का कोई भी मैसेज सोशल माध्यमों से नहीं चलाया है।इस तरह की भ्रमित करने वाली पोस्टों से पूरे क्षेत्र में रोष बना हुआ है।चौहान ने शामली एसपी से सोशल माध्यमों द्वारा दुष्प्रचार और भ्रमित करने वाली पोस्टों को रोकने और दोषियों के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत और अन्य IPC की धाराओं में मुकदमा दर्ज करके कड़ी कार्रवाई की मांग की है।शामली पुलिस कप्तान ने भी कैराना कोतवाली पुलिस को मामले पर तुरंत संज्ञान लेकर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दे दिया है।  

News Reporter

Leave a Reply