स्वच्छ इज्जत घर बनवाने की जांच के नाम पर घोर फर्जीवाड़ा
258

सीतापुर/सीतापुर स्वच्छ भारत मिशन में इज्जत घर बनवाने के नाम पर धोखा धड़ी करने सम्बन्धी चौंकाने वाला मामला सामने आया है ।

उक्त मामला सीतापुर के विकास खण्ड गोदलामऊ ग्राम पंचायत फत्तेपुर सरैया का है जिसमें कुछ दिन पूर्व  प्रकाशित खबर पर जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा संज्ञान लेते हुए जांच टीम ग्राम पंचायत भेजी थी लेकिन जांचकर्ता जिला कोर्डिनेटर ने लाभार्थीयों पर निष्पक्ष  जांच करने के बजाय लाभार्थियों पर नाजायज दबाव बनाकर पंचायत सचिव व् प्रधान को बचाने की नियत से फर्जी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करवाने को कहा लेकिन लाभार्थी हस्ताक्षर  करने से मना कर दिया तथा इस फर्जीवाड़ा जाँच की वीडियो फुटेज भी द्वारा तैयार करवाँ ली गयी उसमें खुला दिखाई दे रहा है जांचकर्ता पूर्णतयः भृष्टाचार में लिप्त है।

सूत्रों की माने तो इस ग्राम पंचायत में शासन के  निर्धारित मानको सम्बन्धी कार्य को न करवाकर पीला ईट व घटियां निर्माण सामग्री इज्जतघर बनवाने में उपयोग की गयी है उन्होंने लाभार्थी को  स्वयम् इज्जत घर निर्माण न करवाकर ठेकेदारों के हाथ बेच दिया क्योंकि ठेकेदार के माध्यम से ग्राम पंचायत सचिव ,प्रधान मिलकर आपस में बन्दरबांट  कर सके जबकि शासन के निर्देशानुसार लाभार्थी के खाते में दो किस्तों में छः छः हजार रुपया आना चाहिये तथा स्वयम् निर्माण करवाने की हिदायत दी है ।

 

News Reporter

Leave a Reply