; संपूर्णानगर में उत्तेजित भीड़ ने आरोपी की दुकान में किया तोड़फोड़, सामान को किया आग के हवाले
संपूर्णानगर में उत्तेजित भीड़ ने आरोपी की दुकान में किया तोड़फोड़, सामान को किया आग के हवाले


पथराव, मारपीट,आरोपी युवक की दुकान में आगजनी व किया तोड़फोड़
डीएम व एसपी खीरी के समझाने पर परिजनों ने किया मृतका का अंतिम संस्कार
लखीमपुर खीरी।संपूर्णानगर में एक किशोरी का आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने के पश्चात लोक लाज बस उसके द्वारा फांसी लगाकर आत्मघाती कदम उठाने के बाद लोगों में बढ़ा आक्रोश आज सड़कों पर आ गया। लोग घर के परिजनों के साथ किशोरी के शव को सड़क पर रखकर नारेबाजी करने लगे और रास्ता जाम कर दिया। इतना ही नहीं लोगों ने दूसरे समुदाय के विपक्षी की दुकान का सामान सड़क पर रखकर उसमें आग लगाना शुरू कर दिया जब कुछ युवकों ने उसका वीडियो बनाया तो लोगों ने उनके मोबाइल छीन लिए और उनसे मारपीट की तथा पत्थर भी चलाए। मामला बढ़ने की सूचना पर पहुंचे जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक खीरी आदि द्वारा मृतका के परिजनों व अन्य लोगों से लंबी वार्ता कर उनकी आवश्यक मांगे माने जाने का आश्वासन दिया। तब जाकर कड़ी सुरक्षा के बीच किशोरी के शव का अंतिम संस्कार हो सका।

ज्ञात हो कि संपूर्णानगर में एक 17 वर्षीय किशोरी का गुरुवार को छत के पंखे में शव लटका मिला था । जिसमें उसकी मां ने पुलिस को दी गई तहरीर में दूसरे समुदाय के एक युवक द्वारा उसका आपत्तिजनक वीडियो वायरल करने का आरोप लगाया था। इस पर संपूर्णानगर पुलिस ने शव को सील कर पोस्टमार्टम हेतु लखीमपुर भेजा था। शुक्रवार देर रात शव जब उसके घर आया, तो बताया गया है कि बजरंग दल सहित अन्य हिंदू संगठनों के कुछ कार्यकर्ता उसके घर पहुंचे और परिजनों से मिलकर सभी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने तक अंतिम संस्कार न करने की सलाह दी। इस पर आज सुबह परिजनों एवं कई संगठनों के कार्यकर्ता किशोरी के शव को सड़क पर रखकर नारेबाजी करने लगे और खजुरिया- पलिया मार्ग जाम कर दिया।

मामला बढ़ता देख एसडीएम व सीओ पलिया मौके पर पहुंचे और पलिया, गौरीफंटा, मझगई ,निघासन आदि थानों की पुलिस भी बुला ली । इसके बाद भी उग्र भीड़ विपक्षी सहित दूसरे समुदाय के कुछ अन्य लोगों की दुकानों का सामान सड़क पर रख आग के हवाले करने लगे। इस पर पुलिस ने जब उन्हें रोका तो वे और उग्र हो पुलिस पर पत्थरबाजी करने लगे। कुछ युवकों ने जब इसका वीडियो बनाना शुरू किया, तो लोगों ने उनके मोबाइल छीन लिए और मारपीट भी की । आरोप है कि कुछ युवकों ने मस्जिद में भी पत्थर फेंके।

इसके बाद मामला बढ़ता देख जिलाधिकारी लखीमपुर खीरी महेंद्र बहादुर सिंह,पुलिस अधीक्षक डॉ गणेश साहा, एडीएम, एसडीएम ,सीओ आदि अधिकारी भी मौके पर भारी पुलिस बल लेकर पहुंचे और मृतका के परिजनों व अन्य संगठनों के लोगों से देर तक वार्ता कर उनकी सभी जायज मांगे माने जाने का आश्वासन दिया
। तब जाकर घर के सदस्य मृतका का अंतिम संस्कार करने पर तैयार हुए ।पश्चात कड़ी सुरक्षा में किशोरी के शव का अंतिम संस्कार किया गया।
उधर डीएम व एसपी ने पत्रकारों को बताया कि गुरुवार को एक घटना घटित हो गई थी, इस संदर्भ में आज कुछ लोगों मैं नाराजगी दिखाई थी इसमें मुकदमा पंजीकृत कर मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और अन्य आवश्यक मांगे मान कार्यवार्ई की जाएगी।

News Reporter
error: Content is protected !!