दो दिनों से केरल में हो रही है भारी बारिश के चलते 20 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा
149

ज़ेबा ख़ान/बीते बुधवार से केरल में भारी बारिश ने इस तरह से तबाही मचाई हुई है जिससे कई लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है। केरल में बारिश  के कारण आई बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं में बुधवार से आज यानी गुरुवार के बीच 20 लोगों की मौत हो गई। आपदा प्रबंधन अधिकारियों के मुताबिक, सबसे ज्यादा जान माल का नुकसान इडुक्की जिले में हुआ है अब तक वहां 10 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

आपको बता दें यहां के अदिमाली में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। इनके अलावा वायनाड, पलक्कड़ और कोझीकोड़ से तीन लोगों के लापता होने की खबर है। उधर, इडुक्की बांंध बारिश की वजह से भर गया है। 26 साल बाद इसका गेट खोला गया।केरल में भारी बारिश

इससे पहले इदामालयार बांध के चार गेट खोले गए। इससे 600 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसका जलस्तर क्षमता (169 मीटर) से करीब एक मीटर ज्यादा हो गया था। राज्य के हालात का आंकलन करने के लिए मुख्यमंत्री पी विजयन ने आपात बैठक बुलाई। उन्होंने कहा, “हमने सेना, नौसेना, तटरक्षक बल और एनडीआरएफ को बुलाया है। और वहां पर राहत और बचाव का कार्य तेजी से आगे बढ़ाने के लिए और टीमों को भी बुलाया गया है। वहां के  हालात को देखते हुए नेहरू ट्रॉफी बोट रेस रद्द कर दी गई है।” अब तक केरल में हुई मूसलाधार बारिश के चलते हुए भूस्खलन की वजह से 20 लोगों की मौत हो गई है।

Leave a Reply