हरिवंश नारायण सिंह बने राज्य सभा के नए उप-सभापति हरिप्रसाद को करना पड़ा हार का सामना
74

ज़ेबा ख़ान/आज राज्यसभा में हुए उप-सभापति के चुनाव में  जेडी (यू) के नेता हरिवंश नारायण सिंह को उप-सभापति उम्मीदवार चुना गया है। एनडीए के उम्मीदवार ने कांग्रेस के बीके हरिप्रसाद को 105 एईएस के खिलाफ 125 आइज़ के साथ हार का सामना करना पड़ा।दरअसल हरिवंश 2014 से जनता दल (यूनाइटेड) के राज्यसभा सदस्य भी रहे हैं।

62 वर्षीय सिंह प्रभात खबर के पूर्व संपादक भी रहे थे।उन्होंने 2014 में राज्यसभा सदस्य बनने के बाद दैनिक छोड़ दिया था।

पहली बार संसद सदस्य हरिवंश को 2014 में नीतीश कुमार की पार्टी द्वारा राज्यसभा में सीट दी गई थी और 2020 तक कार्यकाल है। उन्होंने पूर्व प्रधान मंत्री चंद्रशेखर के साथ भी काम किया है। आपको बता दे हरिवंश उत्तर प्रदेश के बलिया में 30 जून, 1956 को पैदा हुए और उन्होंने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) से अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर(पोस्टग्रेजुएट) किया था। उन्होंने बीएचयू से पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा भी किया। वह प्रसिद्ध समाजवादी जय प्रकाश नारायण के सहयोगी रहे हैं।इन्होंने साल 1977 में हिंदी साप्ताहिक धर्मयुग के साथ अपना करियर शुरूआत की और फिर बाद में हैदराबाद में बैंक ऑफ इंडिया में आधिकारिक भाषा अधिकारी के रूप में शामिल हो गए। ये विश्व संपादकों फोरम के सदस्य भी रहे हैं।

हरिवंश ने एक सांसद बनने के बाद रोहतस में बहुआरा गांव अपनाया। हरिवंश अकसर अपने काम को लेकर चर्चा का विषय बने रहते है।

Leave a Reply