1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
1win.com.ve 1wins.pl 1winz.com.ci aviators.cl lucky-jets.co tgasu.ru
नंगे पैर और सिर पर गुरु ग्रंथ साहिब आगे 10 किमी का खौफनाक रास्ता

नई दिल्ली: एयर इंडिया का एक विमान युद्धग्रस्त अफगानिस्तान से पवित्र गुरुग्रंथ साहिब की तीन प्रतियों और 75 लोगों को लेकर भारत पहुंच गया है। इनमें 46 अफगान सिख और हिन्दू शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में अभी 200 अफगान सिख और हिंदू फंसे हुए हैं।

अफगानिस्तान से हिंदुओं और सिखों को निकालकर भारतीय वायुसेना और एयर इंडिया के विमान लगातार भारत ला रहे हैं। लेकिन मंगलवार को सिखों के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब की तीन प्रतियों को भी अफगानिस्तान से दिल्ली लाया गया। यही नहीं इन्हें रिसीव करने के लिए केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी खुद एयरपोर्ट पहुंचे। उन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब की प्रतियों को सिर पर रखकर रिसीव किया। सिख समुदाय के लोगों और पवित्र धर्म ग्रंथ की प्रतियों को भारत लाए जाने को लोग अफगानिस्तान में सिखी परंपरा का खत्म होना बता रहे हैं। 

इससे पहले अफगान सिख गुरुग्रंथ साहिब सिर पर रख काबुल एयरपोर्ट का 10 किलोमीटर का सफर खौफ के बीच पूरा किया। लोगों के दिलों में तालिबान का डर था। तालिबान ने रास्ते में जगह-जगह पर चेक प्वाइंट लगा रखे हैं। ऐसे में एयरपोर्ट तक सुरक्षित पहुंचना सबसे बड़ी चुनौती थी। यह जानकारी इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष पुनीत सिंह चंडोक ने दी। इन लोगों को पहले काबुल से ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे पहुंचाया गया था। 

हालांकि गुरु ग्रंथ साहिब की प्रतियां भारत लाए जाने का यह पहला मौका नहीं है। इससे पहले 25 मार्च, 2020 को गुरुद्वारा हर राय साहिब में इस्लामिक स्टेट ने हमला कर दिया था। काबुल के इस गुरुद्वारे में हुए हमले में 25 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद भी पवित्र ग्रंथ की 7 प्रतियों को भारत लाया गया था। गुरु ग्रंथ साहिब की कुल 13 प्रतियां अफगानिस्तान में थीं, जिनमें से 7 को पहले ही भारत लाया जा चुका है।

News Reporter
error: Content is protected !!