दिल्ली के स्कूल की शमर्नाक हरकत 59 बच्चियों को फीस के लिए बेसमेंट में किया बंद
127

ज़ेबा ख़ान/आपने कभी किसी भी स्कूल की ऐसी बदसुलूकी नहीं सुनी होगी हो सकता है इसको पढ़ने के बाद आपके अंदर गुस्सा फूट पड़े और शायद आपको पहले इस बात पर याकीन करना भी मुश्किल हो सकता है।

आपको बता दें देश की राजधानी दिल्ली में बीते सोमवार को एक पब्लिक स्कूल की प्राइमरी विंग में बच्चों के साथ शर्मनाक हरकत की गई।ये मामला पुरानी दिल्ली के बल्लीमारान के स्कूल राबिया गर्ल्स पब्लिक स्कूल में करीब 59 मासूम बच्चियों को इस बेतहाशा गर्मी में एक तहखाने में कैद करके रखा गया। स्कूल संचालक का कहना कि इन बच्चियो कि फीस जमा नहीं हुई है। राबिया गर्ल्स स्कूल जाने माने स्कूलों में से एक है।

ये दिल्ली के बेहद प्रतिष्ठित स्कूलों में शुमार है। इस स्कूल की स्थापना साल 1973 में जामिया हमदर्द यूनिवर्सिटी के संस्थापक स्वर्गीय हकीम अब्दुल हमीद ने की थी। वैसे तो यह स्कूल सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध है लेकिन यहां कुरान की भी तालीम दी जाती है। इस स्कूल के रुतबे का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यहां बच्चों का दाखिला होना बेहद मुश्किल होता है।

जिस स्कूल में बच्चों को बंधक बनाकर रखा गया उसमें कुल 300 बच्चे पढ़ते हैं और यहां की मासिक फीस 3000 रुपए है। यहां की तिमाही फीस 9000 रुपए है।

इस मामले में अभिभावकों का कहना है कि उन्होंने फीस जमा कर दी है और साथ ही एक अभिभावक ने तो फीस जमा करने का प्रूफ भी दे दिया। ऐसा आज से पहले किसी भी स्कूल में ऐसा देखने को नहीं मिला है कि फीस नहीं मिलने पर बच्चो को 5 घंटे तक तहखाने में बंद किया जाए।

 

Leave a Reply