झाँसी :  प्रेमी संग मिलकर पति को उतारा मौत के घाट

रिपोर्ट -विवेक राजपूत झाँसी

झाँसी रक्सा थाना क्षेत्र के अंतर्गत कल गला रेत कर की गई युवक की हत्या के मामले से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है। मृतक की उसी की पत्नी ने अपने प्रेमी से हत्या कराई थी। पुलिस ने इस मामले में हत्यारोपी प्रेमी तथा मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा पुलिस ने घटना में प्रयुक्त चाकू तथा एक कार भी बरामद की है। इस घटना का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी. ने बताया कि रक्सा थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिवपुरी हाईवे पर राजगढ़ में रहने वाले सोनू उर्फ राहुल अहिरवार की लाश बरामद की गई थी।

राहुल की गला काटकर हत्या की गई थी। पुलिस तभी से इस मामले की छानबीन में जुटी हुई थी। प्रारंभिक छानबीन के बाद जानकारी सामने आई कि मृतक की पत्नी पिंकी के इलाहाबाद बैंक चौराहा के पास रहने वाले आसिफ से नाजायज संबंध थे। इस पर पुलिस ने आसिफ को उसके घर के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि वह ड्राइवरी का काम करता है तथा वर्तमान में इलाहाबाद बैंक चौराहे के पास रहने वाले विवेक साहनी की महिंद्रा एक्सयूवी गाड़ी नंबर यूपी 93-ए 7975 चला रहा है। उसका राजगढ़ में आना जाना है, जहां उसकी एक दोस्त सोफिया रहती थी। सोफिया ने ही तीन चार महीने पहले उसकी मुलाकात पिंकी से कराई थी।

इसके बाद धीरे-धीरे उसके और पिंकी के बीच में नाजायज संबंध स्थापित हो गए। पिंकी से लगातार उसकी वीडियो कॉलिंग भी होती थी। आसिफ के मोबाइल से पिंकी की वीडियो कॉलिंग के कई आपत्तिजनक स्क्रीनशॉट भी बरामद किए गए हैं। आसिफ अक्सर राहुल की गैरमौजूदगी में उसके घर आता जाता रहता था। इस बीच राहुल को उस पर शक हो गया और इसी बात को लेकर वह पिंकी के साथ मारपीट करने लगा। इसके बाद पिंकी और आशीष ने मिलकर राहुल को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। पिंकी के कहने पर उसने राहुल से दोस्ती कर ली। राहुल को शराब पीने की लत थी। पिंकी ने ही उसे राहुल का मोबाइल नंबर दिया, जिस पर उसने राहुल से कॉल कर बात की और जमीन का काम करने के बहाने उससे दोस्ती कर ली। इस बीच वह उसे अपने पैसों से शराब भी पिलाने लगा।

5 जनवरी की शाम 8:00 बजे वह अपने मालिक की कार लेकर राहुल के घर पहुंचा और उसे फोन कर बुलाने के बाद सदर बाजार स्थित शराब की दुकान पर आया। यहां से उसने अंग्रेजी शराब की बोतल ली, जिसमें उसने नींद की गोलियां मिला दी। गाड़ी में ही उसने राहुल को शराब पिलाना शुरू की। इसके बाद उसे कार में घुमाता रहा। नींद की गोलियों के कारण जब राहुल पूरी तरह से अचेत अवस्था में पहुंच गया तो वह कार से उसे लेकर शिवपुरी हाईवे से डेली व सिजवाहा होते हुए ललितपुर हाईवे पर पहुंचा व सुनसान स्थान पर गाड़ी को रोककर पहले उसने पुष्टि करने के लिए राहुल को आवाज देकर बुलाया व हिलाया डुलाया। जब वह नहीं बोला और नहीं हिला तो उसने घर से लाए हुए सब्जी काटने वाले चाकू से उसकी गर्दन पर वार कर दिए, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद उसने राहुल की लाश को कार से खींचकर सड़क के किनारे फेंक दिया।

लाश को फेंकते समय उसने राहुल का मोबाइल भी निकाल लिया और इसकी सूचना उसने व्हाट्सएप कॉल से राहुल की पत्नी को भी दी। इसके बाद उसने राहुल के फ़ोन को रास्ते में नहर में फेंक दिया। सुबह हो जाने की वजह से वह गाड़ी को साफ नहीं कर सका और गाड़ी को अपने घर के पास ही रख दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर गाड़ी के अंदर से चाकू तथा गाड़ी भी बरामद कर ली। इस गाड़ी में राहुल की हत्या के दौरान निकला खून भी लगा हुआ था। पुलिस ने इस पूरी कहानी के सामने आने के बाद राहुल की पत्नी पिंकी को भी गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply