; MP में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियां फिर एक्टिव होंगी, मुख्यमंत्री शिवराज ने की आपात बैठक - Namami Bharat
1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
MP में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियां फिर एक्टिव होंगी,  मुख्यमंत्री शिवराज ने की आपात बैठक

*CM शिवराज सिंह चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों से अपील की गाँव से शहर तक सभी अस्पतालों में होगी पूरी जांच, जल्द  शुरू होगा कोरोना का अभियान

*मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कार्य-योजना तैयार कर प्रशासन अलर्ट मोड पर रहे, क्राइसिस मैनेजमेंट समितियां गाँव से शहर तक सभी अस्पतालों  में जांच करेगी 

भोपाल, मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में भोपाल के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक में कोरोना संक्रमण की आहट को सुनकर आवश्यक सावधानियां बरतने के निर्देश दिए। भोपाल शहर के अलग-अलग मोहल्लों में एक दर्जन से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने से चिंतित मुख्यमंत्री चौहान ने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य-योजना तैयार कर प्रशासन अलर्ट मोड पर रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधवार को यहां वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम ने क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों को आदेश दिए है और कहा है कि  ये एक बड़ा संकट है है जो वापस आया है इसी के साथ साथ  क्राइसिस मैनेजमेंट टीम को पूरी तरह से काम करना है और  जो संकट हमने पिछली बार झेला था वो संकट हमको वापस से नहीं झेलना है | हमने अगर पूरी सावधानी बारात ली तो हम फिर से प्रदेश में लॉकडाउन आने की परिस्थिति को भी रोक सकेंगे | 

नए वेरिएंट के प्रति चिंतित,सावधान रहें

कमेटी हर एक अस्पताल में  निरिक्षण कर  व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेंगी | इसी के साथ  ऑक्सीजन प्लांट कार्यशील रहें।

पंचायतों की कमेटियां भी सक्रिय रहें, मॉक ड्रिल करें सभी जिलों में 

हर एक गाँव  और शहर  में कमेटियों को सक्रिय किया जायेगा और मॉक ड्रिल 

देश में नए  मामले  

देश में बीते 24 घंटे में 8,954 नए कोरोना केस मिले हैं और 267 लोगों की मौत हुई है। इस दौरान 10,207 लोग रिकवर भी हुए हैं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक फिलहाल 99,023 एक्टिव केस हैं। देश भर में वैक्सीनेशन कैंपन जोरशोर से चलाया जा रहा है। अब तक 1.24 अरब लोगों को टीका लग चुका है।

इंटरनेशनल यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस लागू

इंटरनेशनल यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस लागू साउथ अफ्रीका में मिले कोरोना वायरस के ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ ओमिक्रॉन से बचाव को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से जारी नई गाइडलाइंस आज से लागू हो गई हैं। उधर, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा आदि राज्यों ने अपने स्तर से भी कई सख्त आदेश जारी कर दिए हैं। पढ़िए कोरोना से जुड़े लेटेस्ट अपडेट्स…

अब देश में आने पर हर इंटरनेशनल ट्रैवलर को होना पड़ेगा क्वारैंटाइन

केंद्र सरकार ने ओमिक्रॉन को लेकर तय की गई नई गाइडलाइंस 1 दिसंबर की आधी रात से लागू करने की घोषणा की थी। मंगलवार और बुधवार के बीच की आधी रात से ये गाइडलाइंस लागू हो गईं। इनके मुताबिक, अब ‘एट रिस्क कंट्रीज’ में शामिल 12 देशों से आने वाले हर व्यक्ति का एयरपोर्ट पर ही RT-PCR टेस्ट होगा।

इन यात्रियों को एयरपोर्ट पर ही टेस्ट रिजल्ट आने तक इंतजार करना होगा। यदि टेस्ट निगेटिव आता है तो उन्हें 7 दिन के होम क्वारैंटाइन पर रहने की इजाजत दी जाएगी। 8वें दिन उनका दोबारा RT-PCR टेस्ट होगा, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही उन्हें बाहर घूमने की छूट मिलेगी।

News Reporter
पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बनाने वाली निकिता सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से ताल्लुक रखती हैं पिछले कुछ सालों से परिवार के साथ रांची में रह रहीं हैं और अब देश की राजधानी दिल्ली में अपनी सेवा दे रहीं हैं। नेशनल ब्रॉडकास्टिंग अकादमी से पत्रकारिता में स्नातक करने के बाद निकिता ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के न्यूज़ पोर्टल्स में काम किया। उन्होंने अपने कैरियर में रिपोर्टिंग से लेकर एंकरिंग के साथ-साथ वॉइस ओवर में भी तजुर्बा हासिल किया। वर्त्तमान में नमामि भारत वेब चैनल में कार्यरत हैं। बदलती देश कि राजनीती, प्रशासन और अर्थव्यवस्था में निकिता की विशेष रुचि रही है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही आम जन मानस को प्रभावित करने वाली खबरों पर पैनी नज़र रखती आ रही हैं। बेबाकी से लिखने के साथ-साथ खाने पीने का अच्छा शौक है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ में योगदान जारी है।
error: Content is protected !!