विधानसभा बजट सत्र को लेकर जिला प्रशासन की तैयारी शुरू

संतोष नेगी/ भरीडीसैंण (गैरसैंण) में आगामी 03 से 06 मार्च तक आयोजित होने वाले विधानसभा बजट सत्र को लेकर जिला प्रशासन ने जोरशोर से तैयारियां शुरू कर दी है। शुक्रवार को जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने जिले के शीर्ष अधिकारियों की बैठक लेते हुए मौजूद व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने सत्र की विभिन्न व्यवस्थाओं के लिए नोडल अधिकारी नामित करते हुए 28 फरवरी तक सभी व्यवस्थाएं चाक चैबन्द करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारियों को विधानसभा बजट सत्र में प्रतिभाग करने वाले माननीय मंत्रीगणों, विधायकों एवं शासन के वरिष्ठ अधिकारियों को आवास आरक्षित करने और आवासों में सभी आवश्यक व्यवस्थाऐं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। विधानसभा भवन, सचिवालय, विधायक आवास, अधिकारियों एवं कर्मचारियों के आवास के लिए बैड, बिस्तर, फर्नीचर व अन्य जरूरी सामान की व्यवस्था ससमय से सुनिश्चित करने को कहा। उप जिलाधिकारी को गैरसैंण, आदिबद्री, कर्णप्रयाग, गौचर सहित जनपद की सीमा से जुड़े अन्य जिलों में स्थित गेस्ट हाउस एवं होटलों में स्थित आवासों को भी अधिगृहित करने को कहा।

जल संस्थान को भराडीसैंण स्थित सभी आवासों में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने तथा हैलीपैड एवं अन्य प्रमुख स्थानों पर पेयजल टैंकर की व्यवस्था के लिए निर्देशित किया गया। विद्युत विभाग को बजट सत्र के दौरान विद्युत आपूर्ति सुचारू रखने और जनरेटर की व्यवस्था के रखने को कहा। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए चिकित्सा विभागा को भराडीसैंण में अस्थायी स्वास्थ्य सेन्टर की स्थापना करने तथा क्षेत्र की सभी सीएचसी व पीएचसी में पर्याप्त संख्या में दवाईयां एवं चिकित्सकों की तैनाती रखने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त एयर एम्बुलेंस, कार्डिक एम्बुलेंस भी रखने को कहा। जिला पूर्ति अधिकारी को क्षेत्र के सभी पेट्रोल पम्पों पर पर्याप्त मात्रा में फ्यूल का स्टाॅक रखने के साथ ही पेट्रोल पम्प पर विभाग के किसी एक कर्मचारी की तैनाती, खाद्यान्न एवं गैस सिलेण्डरों की आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा गया।

सत्र के दौरान सुरक्षा व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात करने, संवदेनशील स्थलों पर बैरिकैटिंग लगाने, फायर ब्रिगेड, वाटर कैनन, वायरलेस सेट, लाउड स्पीकर की व्यवस्था, पुलिस बल की ठहरने हेतु समुचित व्यवस्था एवं अन्य सुरक्षा के पुख्ता इतेजाम सुनिश्चित करने को कहा। यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए भराडीसैंण, गैरसैंण, आदिबद्री, सिमली आदि स्थानों पर ट्रैफिक पुलिस की तैनाती रखने के निर्देश दिए।
लोनिवि को गैरसैंण मोटर मार्ग पर पैचवर्क, साइनेज, रिफलेक्टर आदि के साथ मार्ग को दुरूस्त करने और भराडीसैंण, सलियाना बैंड, गौचर स्थित हैलीपैंडों में फायरब्रिगेड, सेफहाउस तैयार करने एवं सभी संवेदनशील स्थलों पर बैरिकेटिंग के लिए शीघ्र टेंडर करने के निर्देश दिए गए।

जिलाधिकारी ने वीआईपी, वीवीआईपी तथा उच्चाधिकारियों के स्काॅट एवं अन्य व्यवस्थाओं के लिए पर्याप्त संख्या में वाहनों का अधिग्रहण करने को कहा। दूर संचार विभाग को विधानसभा भवन, सचिवालय, वीआईपी आवास, मीडिया सेल आदि प्रमुख स्थलों पर वाई-फाई एवं नेटवर्क की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। विधानसभा परिसर व विधानसभा आवासों में नियमित साफ-सफाई हेतु सफाई कर्मचारियों की तैनाती करने एवं प्रमुख स्थलों पर शौचालय की व्यवस्था के लिए नगर पालिका गैरसैंण को जिम्मेदारी दी गई। भोजन व्यवस्था की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने वीवीआईपी, वीआईपी, आॅफिसर, मीडिया एवं अन्य कार्मिकों के लिए मैस की व्यवस्था करने को कहा। वही वन निगम को भराडीसैंण में आलाव के लिए पर्याप्त लकडियां उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बजट सत्र के सफल आयोजन के लिए जिलाधिकारी ने लाइजेनिंग आॅफिसर नियुक्त करने, व्यवस्था प्रभारी, सहप्रभारी एवं विभागीय कार्मिकों की तैनाती करने के भी निर्देश दिए।

बैठक में पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चैहान, उप जलाधिकारी कौस्तुभ मिश्र, एसई लोनिवि मुकेश परमार, सीएमओ डा0 केके सिंह, सीवीओ एसके भण्डारी, सीटीओ डा0 तनजीव अली, तहसीलदार सोहन सिंह रांगड आदि सहित लोनिवि, जल संस्थान, जल निगम, उरेडा, विद्युत, खाद्यान आपूर्ति, जीएमवीएन, नगर पंचायत आदि विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply