राममंदिर नही तो तीर्थों का कायाकल्प कर चुनाव जीतेगी बीजेपी !
325

लखनऊ। बीजेपी सरकारों की घोषणाओं पर यकीन करें तो लोकसभा चुनाव 2019 में जनता के सामने अयोध्या स्थित श्रीराम जन्मभूमि पर चमचमाता भव्य राममंदिर तैयार मिले न मिले पर यूपी के तीर्थ स्थल को चमक सकते है! केंद्र और राज्य सरकार अयोध्या, मथुरा और काशी तीनों धार्मिक स्थलों के विकास के लिए अरबों रुपये के विकास पैकेज की घोषणा कर चुकी है।

यदि ये बजट घोषणाओं के अनुरूप खपत हो गया तो अयोध्या, मथुरा काशी, की गली-गली चमक जायेगी। लेकिन प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी कोई खास बदलाव नहीं दिख रहा है। अयोध्या में हनुमानगढ़ी से जुड़े महंथ ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि दीपावली में  हेलीकाप्टर से राम-सीता को लाने के अलावा कोई नया काम नहीं हुआ है। एक संस्कृत विद्यालय था, तो वह भी नीमसरण्य में चला गया।

अयोध्या के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय ने  बताया कि सरकार ने अयोध्या में विभिन्न विकास प्रकल्पों के लिए 133 करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा किया है। धीरे-धीरे योजनाएं धरातल पर आने लगी है। सरयू तट पर बने घाटों के सुंदरीकरण के बाद शहर की गलियों और रास्तों को नये सिरे से निर्माण होगा। बरसात के बाद दीपावली के साथ अयोध्या भी जगमगायेगा।

अयोध्या में भगवान श्रीराम से जुड़े कई और स्थलों को  नये सिरे से विकसित कर तीर्थ यात्रियों के लिए सुरक्षित आवागमन के साथ सरयू नदी में नौकायन हमारी प्राथमिकता में है। गैर हिंदी भाषी सभी प्रदेश से आने वाले तीर्थ यात्रियों को हम उनकी भाषा के सुविधानुसार पंजीकृत भाषाई गाइड उपलब्ध कराकर  रोजगार को भी बढ़ावा देंगे।

मनोज श्रीवास्तव

Leave a Reply