भाभी की एक तरफा चाहत में चचेरे भाई ने रंगे भाई के खून से हाथ
240

शाहजहांपुर/शाहजहांपुर पुलिस ने दो दिन पहले हुए फाईनेन्स कम्पनी के कर्मचारी की हत्या का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में चचेरे भाई को गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया हत्यारोपी भाई मृतक की पत्नी से एकतरफा प्यार करता था और उसे हासिल करने के लिए ही उसने अपने चचेरे भाई की गोली मार कर हत्या कर दी थी। फिल्हाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

दरअसल दो दिन पहले 12 जून 2018 को पीयुष सक्सेना की उसके ही घर के अन्दर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने जब गहनता से जांच की तो पुलिस को पता चला की मृतक पीयुष की पत्नी से उसके चचेरा भाई अर्पित सक्सेना एक तरफा प्यार करता था। लेकिन पीयूष के रहते वो उसकी पत्नी को हासिल नहीं कर सकता था। इसी के चलते उसने घर में पूजा कर रहे पीयुष की गोली मारकर हत्या कर दी थी। फिलहाल पुलिस ने अर्पित को गिरफ्तार किया है जिसके पास से हत्या में शामिल तमंचा भी बरामद कर लिया है और उसे जेल भेज दिया गया है।

एसपी एस चिनप्पा ने बताया कि दो दिन पहले 32 वर्षीय पीयूष सक्सेना नाम के युवक की उसके घर में गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना में तहरीर मृतक के दोस्तों के खिलाफ दी थी। लेकिन जांच में पुलिस को पता चला कि मृतक का चचेरा भाई अर्पित मृतक की पत्नी से एकतरफा प्यार करता था और वह भाभी के प्यार में पागल था। एसपी के मुताबिक मृतक अपनी पत्नी रश्मि और बच्चे को पीटता था। ये देखकर उसका चचेरा भाई बर्दाश्त नहीं कर पाता था क्योंकि अर्पित भाई की पत्नी को अंदर अंदर बेहद पसंद करता था।

वह उसको पाना चाहता था। लेकिन भाई के जिंदा रहते वह ऐसा नहीं कर सकता था। तीन दिन पहले मृतक अपनी पत्नी को मायके बरेली छोड़कर आया था। घर में अकेला होने के कारण भाई अर्पित दो दिन पहले घर में शाम के समय करीब सात बजे चोरी छिपे घर में घुस गया। उस वक्त मृतक पीयूष पूजा कर रहा था। उसी वक्त भाई अर्पित ने पीयूष के सिर के पीछे से गोली मारकर दी और फरार हो गया। गोली लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी।

एसपी का कहना है कि आरोपी भाई को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। साथ ही आलाकतल भी बरामद कर लिया है। जिन दो लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी गई थी वह जांच मे दोषी नहीं पाएंगे गए थे।

 

News Reporter

Leave a Reply