रेप कांड के आरोपी बीजेपी विधायक का गुर्गा पत्रकारों पर पक्ष में खबर लिखने का बना रहा दबाव
195

उन्नाव। पत्रकार का चोला ओढे बहुचर्चित रेप कांड के आरोपी विधायक का गुर्गा रविन्द्र सिंह राठौड़ जिला पंचायत स्थित मार्केट से खुद विधायक के पक्ष में खबरें प्रकाशित कर अन्य पत्रकारों पर दबंगई व फर्जी मुकदमो में फसाते हुए आरोपी विधायक के पक्ष में खबरें लिखने का दबाव बना रहा है। उक्त नापाक खेल में उन्नाव पुलिस के कुछ अधिकारी व दरोगा उसका साथ दे रहे है। उन्नाव की मीडिया में आरोपी विधायक के पक्ष में सिर्फ रविन्द्र सिंह राठौड़, उसका भाई व अन्य गुर्गे ही खबर कर रहे हैं जबकि मुख्य समाचार पत्र, न्यूज़ चैनल की खबरें कथित की मंशा से विपरीत है। कथित दलालों की मंशा पूरी न होने की दशा में बीते दिनों दही चौकी प्रभारी कुलदीप सिंह गौड़ के साथ मिलकर फ़र्ज़ी मुकदमे लिखने का क्रम जारी रखा है। उक्त मामले में पुलिस अधीक्षक उन्नाव के साथ लखनऊ पुलिस उच्चाधिकारियों को अवगत कर लिखित शिकायत की गई है।

अत्याचार व दमन का अध्याय इति की ओर है, कलम व कलमकार फर्जी मुकदमो से न कभी डरे है और न ही डरेंगे।नहर विभाग के साथ अन्य कार्यालयों में उक्त तथाकथितों ने लंबे अरसे तक टेंडरों में दलाली की है। उक्त की सप्लायर होने की प्रमाणित पुस्टि जल्द होगी।

सूत्रों के अनुसार कथित रविन्द्र सिंह राठौड़ व उसके गुर्गे सीबीआई की रडार पर है। दो बार सी बी आई कि टीम छापेमारी कर पकड़ने का प्रयास कर चुकी है। इसके काल रिकॉर्ड व गतिविधियों से केस में अहम लीड मिलने की उम्मीद है। किसी भी वक़्त  इसकी गिरफ्तारी हो सकती है।

आइये जानते है क्या है प्रकरण

————————————–

दो दशको से भी ज्यादा समय से रेप के आरोपी विधायक की भक्ति में लीन पत्रकार का चोला ओढे कुख्यात *रविन्द्र सिंह राठौड़* व उसका भाई विधायक के बचाव में लगातार साजिशें रच रहा है। आरोपी विधायक के लिए मीडिया का ठेकेदार बनकर जिले के पत्रकारों पर सोशल, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर आरोपी विधायक के पक्ष में लिखने को लेकर लगातार दबाव बना रहा है।

जिले के एक अन्य ईमानदार व लोकप्रिय भाजपा विधायक को बदनाम करने के लिए माखी से एक परिवार को कप्तान ऑफिस लाकर जिला पंचायत की मार्केट में तख्तियां छपवाकर ड्रामा कराने की नाकाम कोसिस की, जांच व अधिकारियों के समक्ष पूरे षड़यंत्र का खुलासा होने पर कथित पत्रकार नें विधायक से माफी मांगी।

दही चौकी स्थित स्लॉटर हाउसों से दही चौकी पुलिस के साथ अवैध वसूली के प्रतिदिन लाखों के काले कारोबार का खुलासा होने पर स्टिंग करने वाले पत्रकारों पर उल्टा मुकदमा लिखवाया।

नगर में आरोपी विधायक की दबंगई का फायदा उठाकर आवासीय जमीन कब्ज़ा कर ली। रेप कांड में सिर्फ ये और इसके भाई का अखबार विश्व की मीडिया से विपरीत आरोपी विधायक के पक्ष में ख़बरें लिख रहे थे।

इन दिनों इनकी साजिश में साथ न देने वाले पत्रकारों पर फ़र्ज़ी मुकदमें लिखवा रहे है। सूत्रों के अनुसार आरोपी विधायक के इसी खास गुर्गे को पकड़ने के लिए सीबीआई की टीम कई दिनों से जिला पंचायत स्थित मार्केट में छापेमारी कर रही है। सूत्रों के अनुसार पिछली छापेमारी में कथित पत्रकार सी बीआई की टीम से बचने के लिए पीछे के रास्ते से भाग निकला था। आरोपी विधायक के गुर्गों का खुला साथ देकर उन्नाव खुद को कटघरे में खड़ा कर रही है।

Leave a Reply