आस्था आतंक की परवाह नहीं करती-योगी आदित्यनाथ

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आस्था आतंकवाद और अलगाववाद का परवाह नहीं करती। आतंकी हमले की आशंका के बावजूद लोग अमरनाथ यात्रा पर जाते हैं। सावन में बम-बम करते जब लाखों की संख्या में शिव भक्त निकलते हैं तो आतंकवाद गायब हो जाता है। योगी ने कहा कि धर्म और कुछ नहीं सिर्फ और सिर्फ कर्तव्य है। ऐसा कर्तव्य जो देश एवं समाज के हित में हो। देश सुरक्षित और समृद्ध रहेगा तो हम भी। उन्होंने कहा कि सोच किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व का आइना होता है। अच्छी सोच किसी व्यक्ति को महान बनाती है और बुरी सोच उसके पतन की भी वजह बनती है। सकारात्मक सोच का व्यक्ति लोककल्याण का माध्यम बन कर लोगों की आस्था को सम्मान दे सकता है और खुद भी सम्मान पा सकता है।जबकि नकारात्मक सोच समाज में अव्यवस्था और अराजकता का कारण भी बनती है। हमारे धर्मशास्त्रों में भी ये बातें कही गयी हैं। गुरुवार को यहां चौक स्थित श्री कोनेश्वर महादेव मंदिर के नवीनीकृत परिसर के लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मंदिर का उल्लेख पुराणों में भी है। लक्ष्मण के साथ भी इसका संबंध है। ऐसे में इस मंदिर की अहमियत त्रेता युग से है। उन्होंने मंदिर के पौराणिक परंपरा को भव्य और नया स्वरूप प्रदान करने के लिए नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन उर्फ गोपलजी  और उनकी पूरी टीम को बधाई भी दी। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मंदिर निर्माण के साथ उसकी साफ-सफाई भी जरूरी है। यहां इस चीज का भरपूर खयाल रखा गया है। अन्य धार्मिक स्थानों पर भी ऐसी ही व्यवस्था होनी चाहिए। यहां ज्योतिर्लिंग में जो भी जलाभिषेक या दुग्धाभिषेक होगा उसे भूगर्भ तक ले जाने की पूरी व्यवस्था की गयी है। फूल समेत अन्य पूजा सामग्री के उचित निस्तारण और प्रसंस्करण की व्यवस्था की गयी है। इस व्यवस्था का अनुसरण कर शहरी जीवन को बेहतर बनाया जा सकता है।कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, सरकार के मंत्री गोपाल जी टंडन और अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply