सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वालो को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शेगी चमोली पुलिस
203

संतोषनेगी/चमोली..दिन प्रतिदिन सोशल मीडिया से बिगड़ते समाजिक सौहार्द को बनाए रखने के लिए उत्तराखण्ड के जनपद चमोली की पुलिस ने सामाजिक सौहार्द बनाने के लिए आम जनता से एक विशेष अपील की है। चमोली पुलिस का कहना है कि अपराधियों का कोई जाति या धर्म नहीं होता है । जनपद की पुलिस ने अपील करते हुए कहा कि सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने वाली अफवाहों पर ध्यान न दें एवं सामाजिक सद्भावना बनाये रखें।

चमोली पुलिस का कहना है कि प्रायः देखने में आ रहा है कि वर्तमान में सोशल मीडिया के  विभिन्न माध्यमों फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप पर असामाजिक तत्वों द्वारा सांप्रदायिक सद्भभावना, जातिगत उन्माद, सामाजिक अशांति फैलाने वाले भ्रामक एवं तथ्यहीन अफवाहें जैसे- बच्चों के खोने-पाने, एक सम्प्रदाय द्वारा दूसरे सम्प्रदाय के लोगों के साथ अभद्रता करने और एक दूसरे सम्प्रदाय की आस्था पर प्रहार करने आदि संदेशों को प्रचारित किया जा रहा है। जिससे आम जनमानस में असुरक्षा एवं भय का वातावरण व्याप्त हो रहा है।

चमोली की पुलिस की आम जनता से विशेष अपील है कि किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न दें और न ही बिना सत्यता प्रमाणित किये ऐसे सन्देश को आगे बढ़ाने, किसी भी प्रकार की अफवाह, सामाजिक अशांति फैलाने वालों के संज्ञान में आने पर तत्काल सूचना पुलिस को दें।

जनपद की पुलिस का कहना है कि पुलिस द्वारा समाज में ऐसी अफवाह फैलाने वाले व्यक्तियों एवं उनकी गतिविधियों पर सतर्क दृष्टि रखकर उनके विरूद्ध कठोर से कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जा रही है।

News Reporter

Leave a Reply