उत्तराखंडः सीमा क्षेत्र के गांवों में पहुँची जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया

संतोष नेगी/ चमोली में जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया एवं पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने सोमवार को सीमांत क्षेत्र नीति घाटी का भ्रमण कर विभिन्न विकास कार्यो का स्थलीय निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। सीमा पर बसे अंतिम गांव नीति, गमशाली, वाम्पा मे जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के आगमन पर सीमांत वासियों ने पारम्परिक परिधानो एवं वाद्य यत्रो के साथ जोरदार स्वागत किया। इस दौरान जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने नीति गांव से आगे गोटिंग चैकपोस्ट पर पहुंच कर आर्मी मेजर से मुलाकात भी की और सीमा क्षेत्रों के मौजूदा हालातो की जानकारी ली।

जिलाधिकारी ने नीति गांव पहुंच कर सीमा पर द्वितीय रक्षा पंक्ति कहे जाने वाले सीमांत के वासिन्दो की समस्याएं सुनी। कहा की सीमांत क्षेत्र के लोगो की समस्याओं का प्राथमिकता पर समाधान करने का पूरा प्रयास किया जाएगा। इस दौरान सीमा पर बसे लोगो ने क्षेत्र मे संचार सुविधा न होने से हो रही परेशानी, सडक के सुधारीकरण, गमशाली से नीति तक सडक को आरटीओ से पास कराने, परिवहन सुविधा के लिए श्रीनगर गढवाल से नीति तक बस सेवा शुरू करने तथा क्षेत्र मे चिकित्सा सुविधा के लिए एम्बुलेंस तैनाती करने की मांग प्रमुखता से डीएम के समक्ष रखी। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि बहुत जल्द क्षेत्र मे जीओ का टावर लगवाया जाएगा ताकि नेटवर्क सुविधा मिलने पर क्षेत्र की अधिकांश समस्याएं दूर हो सके।

जिलाधिकारी ने कहा कि नीति क्षेत्र मे भी पर्यटन की आपार संभावनाएं है। खूबसूरत और मनमोहक प्राकृतिक नजारो के आलावा क्षेत्र मे प्रसिद्ध टिम्बरसैंण महादेव एवं माता भगवती के मंदिर स्थापित है। माणा वैली की तरह नीति वैली मे पर्यटन व तीर्थाटन को बढाने एवं स्थानीय निवासियों की सुविधा के लिए यहां पर परिवहन हेतु बस संचालित कराने का पूरा प्रयास किया जाएगा।

जिलाधिकारी ने महिलाओं से कहा कि अगर सिलाई बुनाई कार्यो या लाइवलीहुड से जुडी कोई भी तत्कालिक आवश्यकता हो तो इसकी जानकारी उपलब्ध करें। इस दौरान सीमांत वासियों ने भारी हिम्पात के कारण क्षतिग्रस्त आवास के बदले अटल आवास योजना से आवास आंवटन हेतु भी जिलाधिकारी से गुहार लगाई। वाम्पा वासियों ने भारी हिम्पात के कारण प्रसिद्ध नाग मंदिर के क्षतिग्रस्त दीवार के पुनर्निर्माण कराने हेतु धनराशि आवंटन करने तथा गम्भीर रूप से बीमार मरीजों को अस्पताल ले जाने के लिए एम्बुलेंस सुविधा न होने की समस्या पर जिलाधिकारी ने कहा कि पहले की भांति जल्द एम्बुलेंस सुविधा वहाल की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने सीमांत वासियो को अपनी संस्कृति, पारम्परिक भेषभूषा और अपने गांव क्षेत्र को आज तक आवाद रखने के लिए जमकर सराहना की। साथ हीअपने आपसी विवादों को पारम्परिक तरीके से सुलझाने के लिए भी बधाई दी। कहा कि कभी भी कोई आवश्यकता हो तो उनसे संपर्क किया जा सकता है। इस दौरान डीएम व एसपी ने नीति गांव मे प्रसिद्ध भगवती मंदिर के दर्शन किए।

सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम के तहत मलारी मे 35 लाख लागत से निर्माणाधीन मिनी स्टैडियम कार्यो का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था को शीघ्र कार्य पूरा कराने के निर्देश दिए। मिनी स्टैडियम मे जीर्णशीर्ण भवन के सुधारीकरण करने व स्टैडियम के पास शौचालय निर्माण हेतु आंगणन उपलब्ध कराने को कहा। धौली नदी पर बन रहे झूलापुल को भी शीघ्र तैयार करने के निर्देश दिए। कहा कि निर्माण कार्यो के पूरा होने पर सितंबर माह मे वे स्वयं कार्यो की गुणवत्ता का निरीक्षण भी करेंगे। जिलाधिकारी ने नीति मे पर्यटक आवास के निर्माण कार्यो का निरीक्षण भी किया। उन्होंने पर्यटक आवास के सभी निर्माण कार्यो को गुणवत्ता के साथ पूरा करने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम अनिल कुमार चनियाल सहित तहसील एवं पुलिस प्रशासन के अन्य अधिकारी व कर्मचारी भी मौजूद थे।

Leave a Reply