पर्यटन राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी ने विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

उत्तर प्रदेश में पर्यटन के दृृष्टिकोण से विकास की असीम सम्भावनाओं एवं उत्तर प्रदेश के धार्मिक,सांस्कृृतिक,ऐतिहासिक एवं आध्यात्मिक धरोहरों को प्रोत्साहित किए जाने हेतु मा0 पर्यटन राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार, उत्तर प्रदेश डाॅ0 नीलकंठ तिवारी जी द्वारा उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग के समस्त क्षेत्रीय अधिकारियों के साथ विडियों कान्फ्रेन्सिग के माध्यम से दिनांक 01 अक्टूबर,2020 को विभागीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की गई जिसमें मा0 पर्यटन राज्य मंत्री जी द्वारा निदेशालय एवं क्षेत्रीय अधिकारियों को पर्यटन विकास हेतु निम्न बिन्दुओं पर निर्देशित किया गयाः-
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं (केन्द्रीय] राज्य जिला एवं मुख्यमंत्री घोषणा) के संबंध में समस्त क्षेत्रीय अधिकारियों को निर्धारित टाइम लाइन के अन्तर्गत पूर्ण करने के निर्देश प्रदान किए गए।
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं (केन्द्रीय] राज्य] जिला एवं मुख्यमंत्री घोषणा) के संबंध में समस्त क्षेत्रीय अधिकारियों को आदेशित किया गया कि उनके संबंधित परिक्षेत्र में क्रियान्वित पर्यटन परियोजनाओं की प्रगति का उपयोगिता प्रमाण-पत्र निदेशालय एवं शासन को अविलम्ब उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें, जिससे पर्यटन विकास कार्यों में बजट उपलब्धता में किसी भी प्रकार की कोई विलम्ब न हो।
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं के संदर्भ में क्षेत्रीय अधिकारियों को आदेशित किया गया कि अपने-अपने परिक्षेत्र में संचालित पर्यटन संबंधी योजनाओं के पूर्ण होने से पूर्व उनके रख-रखाव एवं संचालन का प्राविधान सुनिश्चित किया जाए तथा साइनेजेज के कार्य को अलग से न करते हुए इसे योजना के अन्तर्गत सम्मिलित करते हुए कार्य येाजना तैयार की जाए।
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं के संदर्भ में सभी परिक्षेत्रों में संचालित कराई जा रही पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं के अन्तर्गत एक समिति बनाकर क्रियान्वित कार्यों की गुणवत्ता तथा आगणन के अनुसार कार्यों का मूल्यांकन सुनिश्चित किया जाए।
• कौशाम्बी को प्रमुख बुद्धिस्ट गन्तव्य के रूप में विकसित कराए जाने हेतु एक विस्तृत कार्ययेाजना तैयार कर मुख्यालय को यथाशीघ्र उपलब्ध करायी जाए।
• पर्यटन नीति 2018 के अन्र्तगत प्राप्त प्रस्तावों का निस्तारण शीघ्र कराया जाये तथा आन लाइन निस्तारण हेतु सिस्टम माॅनिटरिंग सुनिश्चित की जाये।
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं के संदर्भ में क्षेत्रीय अधिकारियों को आदेशित किया गया कि अपने-अपने परिक्षेत्र में संचालित पर्यटन संबंधी योजनाओं की सूची संबंधित मा0 विधायकगणों एवं जिलाधिकारी को उपलब्ध करायी जाए तथा जिलाधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए समस्त परियोजनाओं का ससमय अनुश्रवण कराया जाना सुनिश्चित किया जाए।
• मा0 मंत्री जी द्वारा निदेशालय एवं क्षेत्रीय अधिकारियों को अपने परिक्षेत्र के अन्तर्गत पर्यटन संबंधी विकास संचालित की जा रही परियोजनाओं में लैण्ड स्केपिंग] वृक्षारोपण एवं ऊँचे पेड़ लगाये जाने के निर्देश प्रदान किए गए है।
• मा0 मंत्री जी द्वारा सभी क्षेत्रीय अधिकारियों को अपने परिक्षेत्र में समस्त पर्यटक स्थलों की मैपिंग सुनिश्चित कराने के निर्देश प्रदान किए गए है।
• मा0 मंत्री जी एवं प्रमुख सचिव पर्यटन द्वारा समस्त क्षेत्रीय अधिकारियों को अपने-अपने जिलों/मण्डलो के प्रमुख आकर्षणों को आधार बनाते हुए थीम बेस्ड प्रोजेक्ट्स की कार्य-योजना तैयार कर मुख्यालय को यथाशीघ्र उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे।
• मा0 मंत्री जी द्वारा क्षेत्रीय अधिकारियों को भविष्य में पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं का प्रस्ताव तैयार करने हेतु निर्देशित किया गया कि वह अपने-अपने परिक्षेत्र के ललित कला एकेडमी, प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों एवं संस्थानों के कला संकायों के साथ समुचित समन्वय स्थापित करते हुए वहाँ के वास्तुकला को समाहित करते हुए कार्ययोजना बनायी जाए।
• मा0 मंत्री जी द्वारा क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी गोरखपुर को निर्देशित किया गया कि गोरखपुर में नवनिर्मित रामगढ़ताल की परियोजना वहाँ आने वाले पर्यटकों/नागरिकों के लिए पर्यटन क्षेत्र में एक नवीन पहल है। इस परियोजना में जलक्रीडा से संबंधित क्रियाओं का संचालन एवं रख-रखाव उच्च स्तरीय मापदण्डों के अनुरूप हो, यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित किया जाए।
• मा0 मंत्री जी द्वारा निदेशालय एवं क्षेत्रीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि पर्यटन विकास के दृष्टिगत कराए जा रहे विकास कार्यों की पूर्व की स्थिति एवं कार्य पूर्ण हो जाने के उपरान्त (Before & After) के शार्ट विडियो फिल्म का निर्माण कराया जाए तथा सोशल मीडिया के माध्यम से वृहद प्रचार-प्रसार कराया जाना सुनिश्चित करें।
• मा0 मंत्री जी द्वारा पर्यटन विकास संबंधी योजनाओं के संदर्भ में आदेशित किया गया कि अपने-अपने परिक्षेत्र में प्रारम्भ की जाने वाली नवीन पर्यटन संबंधी योजनाओं का सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के माध्यम से दैनिक समाचार-पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित कराया जाए जिससे संबंधित क्षेत्र में पर्यटन विकास कार्यों की जानकारी जनमानस को हो सके।
• इस बैठक में श्री मुकेश मेश्राम] प्रमुख सचिव पर्यटन,श्री एन0जी0 रवि कुमार, सचिव/महानिदेशक पर्यटन,श्री शिवपाल सिंह, विशेष सचिव/प्रबन्ध निदेशक उ0प्र0 राज्य पर्यटन विकास निगम लि0, लखनऊ,श्री अविनाश चन्द्र मिश्र संयुक्त निदेशक पर्यटन व अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply