समायोजन से अपने मूल विद्यालय तैनात होंगे अब शिक्षामित्र
221

कन्हैया लाल यादव बलरामपुर अखिलेश सरकार में शिक्षामित्र से सहायक अध्यापक बने शिक्षकों की तैनाती न्यायालय के आदेश पर निरस्त होने के बाद पुनः शिक्षा मित्र बना दिए गए पूर्व सहायक अध्यापकों अपने मूल  मूल विद्यालयों में तैनाती का विकल्प का अवसर देकर समायोजन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है जिले में दो दिवसीय समायोजन के लिए काउंसलिंग जिला शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान मे किया गया पहले दिन महिला वर्ग तथा दूसरे दिन  पुरुष वर्गों का समायोजन काउंसिल किया गया जिसमें शिक्षामित्रों ने दिए गए विकल्पों को- भरकर समायोजन संबंधित परिपत्र जमा किया गया काउंसलिंग कराया

  जनपद में 1576 प्राथमिक विद्यालय के लगभग 1050 समायोजित शिक्षामित्र तैनात है गत वर्ष शिक्षा मित्र से सहायक अध्यापक बने शिक्षामित्रों की तैनाती न्यायालय से निरस्त किए जाने  के बाद समायोजित सहायक अध्यापकों को फिर से शिक्षामित्र बनाए जाने के बाद इन्हें अपने मूल विद्यालय अथवा दिए गए विकल्प को प्रस्तुत करने का अवसर देते हुए पहले दिन महिला वर्ग की काउंसलिंग के लिए डायट भवन में तीन काउंटर लगाए गए जिसमें 425 महिला शिक्षा मित्रों के सापेक्ष 267 शिक्षामित्रों ने अपने मूल विद्यालय तथा दिए गए विकल्प को प्रस्तुत कर संबंधित आवश्यक कागजात जमा किया दूसरे दिन पुरुष वर्ग के काउंसलिंग में 688 पुरुष शिक्षामित्रों के सापेक्ष 577 अभ्यार्थियों ने विकल्प प्रस्तुत कर पत्र जात जमा किया

बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिहर प्रसाद ने बताया कि काउंसलिंग के बाद शिक्षामित्रों की तैनाती उनके मूल  विद्यालय पर प्राथमिकता के आधार पर समायोजित कर दिया जाएगा।

News Reporter

Leave a Reply