Blepharitis- आखिर कैसे होती है पलकों में सूजन? जानें इसके लक्षण और कारण

पूनम तिवारी। आपकी पलकें त्वचा से भी ज्यादा संवेदनशील होती हैं जो आपकी आंखों में गंदगी जाने से बचाती हैं। आपको बता दें कि पलकों का खास ध्यान रखना चाहिए अगर आप पलकों की साफ सफाई नहीं रखेंगे तो सक्रंमण का खतरा होता है। जिससे पलकें सूज जाती हैं। आइए जानते हैं कैसे पलकों में सूजन होती है।

पलकों में सूजन के कारण-

ब्लेफेराइटिस बच्चों और वयस्कों में एक आम समस्या है। ब्लेफेराइटिस जीवाणु संक्रमण के कारण से होता है जो बैक्टीरिया हमारी त्वचा पर मौजूद होती हैं। कुछ लोग इस बैक्टीरिया को अनुभव करते हैं, जैसे उनकी पलकों के आधार पर रूसी बनते हैं।

कुछ मामलों में, ब्लेफेराइटिस साफ सफाई न रखने की वजह से भी होता है, जो अक्सर बच्चों और किशोर में होता है। ब्लेफेराइटिस के अन्य कारणों में सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस, मुंहासे और एलर्जी प्रतिक्रियाएं शामिल हैं। एक अन्य कारणों में शामिल Demodex है। Demodex एक बरौनी घुन है जो eyelashes को संक्रमित करता है। 

पलकों में सूजन के लक्षण-

सूजन के लक्षणों में शामिल हैं:

  • पलकों में खुजली होना
  • पलकों का सूज जाना
  • पलकें लाल हो जाती हैं
  • आंखों में जलन होना
  • तैलीय पलकें दिखती हैं
  • आंखों का चुभना 
  • गीली आखें होना
  • पलकों या आंखों के कोनों में पपड़ी का होना
  • रोशनी का चुभना

ये लक्षण संक्रमण का संकेत भी हो सकते हैं। आपको इन लक्षणों के दिखने पर चिकित्सक से सम्पर्क करना चाहिए।

पलकों में सूजन के उपचार-

अपनी आंखें गर्म पानी से धोना इससे सूजन को कम किया जा सकता है। सूजन की गंभीरता के आधार पर आपकी सूजन एक संक्रमण के कारण होती है, आपका डॉक्टर अन्य उपचारों की सिफारिश कर सकता है।

ध्यान रहे कि आप अपना चेहरा नियमित रूप से धोते रहैं। सोने से पहले अपनी आंख और चेहरे का मेकअप जरूर हटाएँ, आंखों को गंदे हाथों से न छुएं और खुजली वाली पलकों को ज्यादा न रगड़ें। आंखों की सूजन गंभीर हो रही हो, तो अपने डॉक्टर से बात करें। 

Leave a Reply