आयोध्या में बना राम मंदिर भक्तों का इंतेज़ार हुआ अब खत्म जल्द कर सकेंगे दर्शन
870

ज़ेबा ख़ान/सदियों से आयोध्या में राम मंदिर बनने का इंतेज़ार लोगों को रहा है। चाहें देश में किसी कि भी सरकार क्यो न हो लोगों का मतदान ही इसी मुद्दे पर होता है कि आयेध्या में राम मंदिर बनवाया जाए।लोगों के लिए अच्छी खबर है कि आयोध्या में रान मंदिर ते बना है लेकिन भारत की आयोध्या में नहीं बना है राम मंदिर।

दरअसल ये राम मंदिर थाईलैंड की अयोध्या (अयुथ्थ्या) में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू किया गया है।

थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक से राम जन्मभूमि निर्माण न्यास ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत जन्मेजय शरण ने बताया कि भारत के अयोध्या में राम मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट के समक्ष विचाराधीन है। लिहाजा हम राम भक्तों ने यहां राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू किया है।दरअसल  इस मंदिर का निर्माण राम जन्मभूमि निर्माण न्यास ट्रस्ट ही करा रहा है। बुधवार को अयुथ्थ्या में राम जन्मभूमि निर्माण ट्रस्ट द्वारा भूमि पूजन और पूरे धार्मिक अनुष्ठान के बाद राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू हो गया।

ट्रस्ट के अध्यक्ष ने बताया कि बैंकॉक में राम मंदिर का निर्माण भारत को विश्वगुरु के रूप में स्थापित करेगा। इससे भगवान राम की विचारधारा का प्रचार-प्रसार भारत के बाहर भी होगा। बैंकॉक में राम मंदिर के निर्माण का काम चाव फ्राया नदी के किनारे होगा, जो कि शहर के बीचोबीच बहती है।

आपको बता दें 15वीं सदी में थाईलैंड की राजधानी को अयुथ्थ्या कहा जाता था, जिसे वहां की आम भाषा में अयोध्या कहा जाता है। जबकि भारत अयोध्या सरयू नदी के तट पर बसी हुई है। दरअसल थाईलैंड में अयोध्या के नाम से एक शहर है और उस शहर के किनारे प्रसिद्ध सोराय नदी के तट पर श्री राम का भव्य मंदिर बनाने को लेकर भूमि पूजन किया गया है।  महंत ने बताया कि अप्रवासी भारतीयों के मन में श्री राम का भव्य मंदिर बने इस बात को लेकर भी काफी उत्साह है। वहां के लोगों के द्वारा ऐसी उम्मीद की जा रही है कि शीघ्र हीवहां पर भव्य राम मंदिर बन कर तैयार हो जाएगा। जिससे राम भक्तों के अन्दर काफी हर्षोउल्लास देखने को मिल रहा है।

Leave a Reply