20 हजार दोगे नगर पालिका लहरपुर के बाबू को तब मिलेगा आवास योजना का लाभ 

सुधांशु पुरी/ मोहम्मद रफी। 20 हजार दोगे नगर पालिका लहरपुर के बाबू को तब मिलेगा आवास योजना का लाभआ आखिरक्यों नही हो रही दागी कर्मचारियों पर कार्यवाही

सीतापुर। दागी कर्मचारियों पर यहां कोई कार्यवाही नही होती। ये हम नही कह रहे ये कहना है लहरपुर की आम जनता का।
केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना में अधिकारी और कर्मचारियों की जमकर सांठ गांठ हो रही है।लहरपुर नगर पालिका में जहां लगतार पात्रों को ही अपात्र बनाया जा रहा है। वहीं अपात्रों को प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिया जा रहा है। वहीं दागी कर्मचारियों पर ना तो नगरपालिका कोई कार्यवाही कर रही ना ही डूडा विभाग सीतापुर।

मामला सीतापुर जिले की नगरपालिका लहरपुर का है ।जहां अधिकारी कर्मचारी सांठ गांठ करके पात्र व्यक्तियों को अपात्र दिखा रहे हैं वहीं अपात्रों को लाभ पहुंचाया जा रहा है। वहीं दागी कर्मचारी अफसर अली के सामने आने के बाद भी वे कर्मचारी अपनी कुर्शी पर जमे हुए है। वहीं इस खेल में सीतापुर का डूडा विभाग भी पूरी तरह सम्मलित है।

विदित हो कि लहरपुर नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत करीब 85 लोगों को अपात्र करार दिया गया है जिसमें एक महिला शिवप्यारी ने कुछ दिन पूर्व आरोप लगाकर नगर पालिका के एक कर्मचारी अफसर अली और एक दलाल पर एफआईआर भी कराई है कि उसने 20 हजार नही दिए तो उसे अपात्र घोषित कर दिया गया। जबकि बाद में डूडा विभाग की जांच में शिवप्यारी को पात्र पाया गया है।

वहीं यदि हम सूत्रों की माने तो 20 हजार रुपये पात्र बनाने के नाम पर लिए जा रहे है। जिसके बाद उसकी प्रथम किश्त अवमुक्त की जा रही है। जब 20 हजार दोगे तभी लहरपुर नगर पालिका में शहरी आवास योजना का लाभ मिलेगा। वहीं दागी कर्मचारी के सामने आने के बाद भी नगर पालिका प्रशासन और डूडा विभाग मौन धारण किये हुए है। क्योंकि इस कर्मचारी द्वारा लगातार लोगों से पैसों की डिमांड की जा रही जिसका उदाहरण इनके ऊपर एफआईआर है।

वही आंकड़ों पर गौर करें तो हजारों लोगों को लहरपुर क्षेत्र में प्रधानमंत्री शहरी आवास का लाभ पहुंचाया गया है। जबकि असल में जिन व्यक्तियों को लाभ पहुंचाया गया उसमें ज्यादा तर पहले से ही अपात्र की श्रेणी में आते थे यदि इस पूरे खेल की जांच की जाए तो कई ऐसे तथ्य सामने आएंगे जो हैरान कर देने वाले होंगे।

*वहीं इस मामले में नमामि भारत ने जब डूडा विभाग के प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के जेई पीयूष मिश्रा से बात की तो उनका कहना था कि लगातार शिकायत के बाद अफसर अली का आवास का कार्य किसी और को दे दिया जाना चाहिए था लेकिन जल्द डूडा विभाग की और से लेटर जारी कर ईओ को भेज दिया जाएगा।*

वहीं इस मामले में लहरपुर ईओ हनीफ खां से बात हुई तो उन्होंने कहा आप शिकायत भिजवाए हम कार्यवाही करेंगे।

Leave a Reply