पाकिस्तान की महिला पायलटों ने 23 हजार फीट ऊंचे पहाड़ो में उड़ाया प्लेन
194

ज़ेबा ख़ान/

हर देश में हमेशा पुरूषों से महिलाओं को काम आंका जाता है। उन्हें बच्चपम से ये ही सिखाता जाता है तुम पुरूषों के बराबर नही हो तुम्हारा काम घर में रहना और खाना पकाना हैं। इस बात को उन लोगों के दिमाग बैठा दिया जाता है। लेकिन अकसर ये देखने  को मिलता है महिलाएं पुरूषों से कम नही है वह पुरूषों से कंधे से कंधा मिलाकर काम करने समर्थ है आज ऐसा कोई फील्ड नही हैं जहां महिलाओं ने अपना लोहा न मनवाया हो। आज हम आपको ऐसी ही पाकिस्तान की दो महिला पायलट के बारे में बता रहै हैं। कैप्टन मरिय़म मसूद और फर्स्ट ऑफिसर शुमायला मज़हर की सोशल मीडिया पर आजकल जमकर तारीफ हो रही है। दोनों ने हाल ही में पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) की फ्लाइट को गिलगित इलाके में उड़ाया। इस इलाके को  डेथ जोन भी कहलाता जाता है क्योंकि वहां 23 हजार फीट ऊंचे कई पहाड़ हैं। इस प्लेन ने इस्लामाबाद से उड़ान भरी थी और गिलगित-बाल्टिस्तान से लौट आया था।

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स की तरफ से महिला पायलटों की तारीफ में ट्वीट किया गया। इस ट्वीट को अब तक 11 हजार से ज्यादा लाइक्स मिल चुके हैं और 3300 से ज्यादा लोग इसे री-ट्वीट भी किया है। पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस ने इन महिला पायलटों की तारीफ में लिखा- ”गिलगिट के लिए उड़ान बहुत मुश्किलभरी होती है। वहां से उड़ान भरने के लिए तकनीक रूप से दक्ष और सटीक होने की जरूरत होती है। कैप्टन मरियम और शुमायला ने दुर्गम पहाड़ों के बीच से बेहद आसानी से प्लेन उड़ाया।”

पाक की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन दोनों पायलटों ने जिस इलाके से विमान उड़ाया, वहां हिमालय और काराकोरम पर्वत श्रृंखला की 14 चोटियां हैं। वहां से उड़ान भरना किसी भी पायलट के बेहद मुश्किल होता है। ये इलाका ऐट-थाउंजेंडर्स में आता है। ऐट-थाउंजेंडर्स में समुद्र स्तर से 23 हजार से 26 हजार फीट ऊंचे पहाड़ हैं। यहां मैदानी इलाकों के मुकाबले ऑक्सीजन लेवल 30% कम होता है।उमर हसन ने ट्विटर पर लिखा कि पाकिस्तान की इन महिलाओं पर हम फख्र करते हैं। आसिफ पाशा ने ट्वीट किया- मेरी बेटी 8 साल की है। वह भी आपकी तरह पायलट बनना चाहती है। इसमें अभी वक्त लगेगा लेकिन आप दोनों महिलाओं से प्रेरित होकर, वह भी एक दिन पायलट जरूर बनेगी। इन दोनों जांबाज़ महिला पायलटों की हर जगह जमकर तारीफ हो रही है और साथ ही इन्होंने ये भी साबित कर दिया आज की महिला किसी भी कठिन से कठिन परिस्थिती का आसानी से सामना कर सकती है।

News Reporter

Leave a Reply