युवक ने किया सुसाइड : सुसाइड नोट में कांग्रेस के पूर्व प्रदेशध्यक्ष निर्मल खत्री का नाम
119

रुपेश श्रीवास्तव। फैजाबाद में समीर पांडे नाम के व्यक्ति ने अपने घर के कमरे में ही फांसी के फंदे से झूल कर आत्महत्या कर ली और पीछे छोड़ दिया एक सुसाइड नोट।सुसाइड नोट पढ़ने के बाद राजनीति और पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। सुसाइड नोट में मृतक ने कांग्रेस के पूर्व प्रदेशध्यक्ष व कद्दावर नेता डॉ निर्मल खत्री का नाम लिखा है।मृतक ने लिखा मम्मी पापा निर्मल खत्री से मुकदमा ना लड़ो वो पावरफुल इंसान है।अब देखिये आगे क्या है पूरी कहानी और क्यों समीर पांडे ने की आत्महत्या। क्या है पूरा मामला।

दरअसल समीर पांडे के आत्महत्या के पीछे एक विद्यालय की संपत्ति का विवाद जुड़ा है जो इस समय हाई कोर्ट में विचाराधीन है। समीर पांडे अपने परिवार के साथ कोतवाली नगर के कोठापार्चा मोहल्ले में रहता था और जिस विद्यालय का विवाद है वह विद्यालय थाना रौनाही के ड्योढ़ी में स्थित है और नाम है राम वल्लभा इंटर कॉलेज।रामवल्लभा इंटर कॉलेज के प्रबंध समिति में 57 सदस्य हैं जिसमें मृतक के मां बाप अंजनी कुमार पांडे व सत्या पांडे सदस्य हैं।मृतक की मां सत्या पांडे की बात माने तो निर्मल खत्री ने विद्यालय की संपत्ति पर कब्जा कर रखा है और उनको बहुमत के आधार पर बेदखल कर दिया है। जिसको लेकर मृतक के मां बाप ने रजिस्टार आफ सोसाइटीज कंपनीज में दावा भी दायर किया जिसमें मृतक के मां-बाप को सबूतों के अभाव में शिकस्त मिली लेकिन मृतक के मां बाप ने हार नहीं मानी और हाईकोर्ट में अपील किया। यह मामला हाई कोर्ट में पिछले 9 साल से विचाराधीन चल रहा है।इसी विवाद के चलते मृतक ने अपने सुसाइड नोट में लिखा की मम्मी पापा आप निर्मल खत्री से मुकदमा मत लड़ो वह पावरफुल आदमी है।मृतक की मां बाप की माने तो निर्मल खत्री कई बार धमकी भी दे चुके हैं।अब जरा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री की भी सुने उन्होंने कहा कि आरोप निराधार है मुकदमा मृतक के मां बाप ने ही किया है और सबूतों के अभाव में रजिस्टार आफ सोसाइटीज कंपनी से मुकदमा भी हार चुके हैं। अब मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन है। फिलहाल मामला अब पुलिस के पास है कोतवाली नगर पुलिस को इंतजार है मृतक के परिजनों की तरफ से तहरीर का। प्रभारी एसएसपी ने भी कहा है कि तहरीर मिलने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply