करोड़ो की अष्टधातु मूर्ति चोरी का खुलासा,हिंदू युवा वाहिनी का संयोजक फरार
119

बहराइच। जिले की पुलिस ने एक मूर्ति चोरों के गिरोह का खुलासा करते हुये तीन शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है । इनके पास हरदी इलाके के एक मंदिर से चुराई गयी करोड़ों कीमत की तीन मूर्तियां बरामद की है । गिरोह में शामिल अन्य छह लोगों की तलाश की जा रही है । पुलिस अधीक्षक ने इस गिरोह को पकड़ने वाली पुलिस टीम को नगद पुरुस्कार देने की घोषणा की है ।

हरदी थाना क्षेत्र के रमपुरवा ग्राम में स्थित प्राचीन राम जानकी मंदिर से बीती दो फरवरी को करोड़ो रूपये कीमत हनुमान , लक्ष्मण व सीता की मूर्तियां चोरी हो गयी थी । घटना के जिले में हड़कंप मच गया था । आलाधिकारियों ने क्राइम ब्रांच , स्वाट व हरदी पुलिस को जल्द से जल्द मामले के खुलासे के निर्देश दिये थे । पुलिस टीमों ने अथक प्रयास के बाद एक शातिर मूर्ति चोरों के गिरोह के तीन सदस्यों को चहलारी घाट से गिरफ्तार कर उनके पास से मंदिर से चोरी की गई करोड़ो रुपये मूल्य की हनुमान , सीता व लक्ष्मण की मूर्तियों को बरामद कर लिया गिरोह में शामिल छह अन्य लोगों की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है ।

पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने बताया की मूर्ति के साथ पकड़े गये राम जी , निजाम व उवैद आपस मे दोस्त हैं । इन लोगों ने अपने साथियों के साथ मिलकर पहले मंदिर की रेकी की फिर उसके बाद सभी ने घटना को अंजाम दिया । ये सभी मूर्तियों को नेपाल में बेचने के फिराक में लगे हुये थे । इसी दौरान इनको गिरफ्तार कर लिया गया । इनके साथ घटना में शामिल विक्रम , शेरू, श्रवण , जुबैर , साहिल व उसका एक साथी फरार है । जिसकी तलाश की जा रही है । वही विश्वश्त सूत्रों व एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि सत्ता पक्ष के एक विधायक ने पुलिस को फ़ोन कर दबाव बना कर हिन्दू युवा वाहिनी भारत के नेता को इस मामले से बरी करा लिया।

गिरोह को पकड़ने वाली हरदी, क्राइम ब्रांच व स्वाट टीम को बीस हजार रुपये व स्वाट टीम के सिपाही अख्तर को अलग से पांच हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जा रही है । इसके अलावा महसी से भाजपा विधायक सुरेश्वर सिंह ने भी २१०० रुपये पुलिस टीम को दिये हैं

Leave a Reply